देश के युवाओं ने पीएम मोदी के जन्मदिन पर मनाया राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस , फिर 5 बजे बेरोजगारी को लेकर किया प्रदर्शन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्म दिवस के मौके पर आज देश के बेरोजगार युवाओं ने रोजगार को लेकर सरकार से सवाल किया। क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अगर पुराने भाषणों को देखा जाए तो उसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते हुए नजर आ रहे हैं युवाओं को रोजगार मिलना चाहिए कि नहीं मिलना चाहिए । लेकिन इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सत्ता में आए लेकिन बेरोजगारी लगातार बढ़ती ही गई। और स्थिति यह आ गई कि करोड़ों लोगों की नौकरियां चली गई।

टीवी पर एंकर जोर जोर से चिल्ला रहे हैं। लेकिन वो इन छात्रों के बेरोजगारी वाले मुद्दों पर नहीं बल्कि कंगना रिया सुशांत इन पर जोर जोर से चिल्ला कर बहस कर रहे हैं। और इन पर बहस करने से उन छात्रों और आम लोगों को क्या फायदा । और कोरोनावायरस संक्रमण बढ़ने से युवाओं के लिए समस्या बढ़ती ही जा रही है। आज देश के युवाओं ने शाम 5:00 बजे बढ़ती बेरोजगारी को लेकर प्रदर्शन किया। और इन प्रदर्शन को लेकर ट्विटर पर हैशटैग भी चले

लेकिन जो हेस्टैग ट्रेंड हुए वह वर्ल्ड ट्रेंड हो गए। इस देश के युवा छात्र ही इस देश का भविष्य है। लेकिन मौजूदा सरकार में छात्र लगातार बेरोजगार होते गए। लेकिन इन बेरोजगार छात्रों की आवाज मुख्यधारा के मीडिया चैनल तक अभी तक नहीं पहुंच पाई है। क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषणों में करोड़ों लोगों को नौकरी देने का वादा किया था। लेकिन आज स्थिति यह है कि करोड़ों लोगों की नौकरियां चली गई है।

आज देश के युवाओं के वीडियो और फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। और जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहले बातें किए थे उन्हीं बातों पर यह युवा सरकार को घेर रहे हैं। लेकिन इन युवा बेरोजगार छात्रों की खबरों को गोदी मीडिया द्वारा इन खबरों पूरी तरीके से छुपाने की कोशिश हो रही है। और इन खबरों को गोदी मीडिया ऐसे हालात में छिपाने की कोशिश हो रही है जब देश में युवा बेरोजगारी को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं और हैशटैग वर्ल्ड ट्रेंड कर रहा हो