बाढ़ पीड़ितों की मदद में सबसे आगे रहने वाले बिहार के पप्पू यादव भी हार गए चुनाव , बाढ़ पीड़ितों की मदद ….

बिहार चुनाव के नतीजे भी हमारे सामने आ गए हैं और उसमें एनडीए को बहुमत प्राप्त हुआ है। लेकिन वही बिहार के पप्पू यादव भी सोशल मीडिया पर काफी चर्चित रहे जब बिहार में बाढ़ आई थी उस वक्त पप्पू यादव बाढ़ पीड़ितों की मदद करने में सबसे आगे रहे और सोशल मीडिया पर पप्पू यादव की इसी सामाजिक कार्य को लेकर लगातार प्रशंसा हुई थी उसके बाद जब लॉकडाउन में मजदूर पैदल चल रहे थे उस वक्त भी पप्पू यादव ने पैदल चलते राहगीरों की मदद की थी।


वैसे सोशल मीडिया की तस्वीरों को अगर देखा जाए तो पप्पू यादव गरीबों की मदद करने में सबसे आगे रहे हैं जिस वक्त बिहार में बाढ़ आई थी और उस वक्त बिहार के पप्पू यादव बाढ़ पीड़ितों की मदद करने में सबसे आगे खड़े दिखाई दिए उनके कई वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड हैं सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहने वाले पप्पू यादव मदद के लिए हमेशा आगे रहे सुशांत सिंह राजपूत का जब मामला सामने आया था तब भी पर है सुशांत सिंह राजपूत के घर पहुंच गए थे।

लेकिन बिहार के पप्पू यादव की पार्टी को एक भी सीट नहीं मिली है और बल्कि वह स्वयं भी चुनाव हार गए हैं पप्पू यादव को 26462 वोट मिले थे और पप्पू यादव चुनाव परिणाम में तीसरे नंबर पर रहे थे। लेकिन वही तेजस्वी यादव ने भी काफी मेहनत की और तेजस्वी यादव को उसका परिणाम भी मिला वहीं एनडीए को भी महागठबंधन से ज्यादा सीटें प्राप्त हुई और एक बार फिर एनडीए की सरकार बनने जा रही है।

हालांकि जिस वक्त चुनावी रैलियां बिहार में हो रही थी उस वक्त सबसे ज्यादा एनडीए की ओर से जो वादा किया गया था वह फ्री वैक्सीन का था। की जनता में फ्री वैक्सीन को बांटा जाएगा ऐसा दावा भारतीय जनता पार्टी की ओर से किया गया था। लेकिन भारत में कोरोनावायरस संक्रमण भी अब कम होता दिखाई दे रहा है हर रोज करीब 50 हजार के करीब मामले आ रहे हैं और इतने मामले कभी पहले आया करते थे बीच में तो कोरोनावायरस संक्रमण के मामले 1 लाख को छूने वाले थे।

लेकिन अब देखा जाए तो कोरोनावायरस संक्रमण भारत में बहुत कम हो गया है। हालांकि जिस वक्त देश में संपूर्ण लॉक डाउन लगाया गया था और उस वक्त जो मजदूर दूसरे शहरों जैसे मुंबई और दिल्ली में काम करने गए थे और तब दे अपने घरों को लौट रहे थे क्योंकि उनके पास घर लौटने के अलावा कोई चारा भी नहीं था क्योंकि उनके पास खाने पीने के पैसे भी नहीं बचे थे और काम भी उस वक्त लॉकडाउन के समय में बंद हो गया था।

तब भी मदद करने के लिए कई लोग आगे आए थे। लॉकडाउन में जिस समय मजदूर सड़कों पर पैदल चल रहे थे उस वक्त कई नेताओं और कई वरिष्ठ लोगों ने गरीब मजदूरों की मदद की थी। वहीं बिहार में प्रति वर्ष बाढ़ आती है और लोगों को नुकसान पहुंचाती है उनके घर तबाह हो जाते हैं ऐसी तस्वीरें आपको जब बिहार में बाढ़ आई थी तब देखी होंगी। लेकिन जब बिहार में बाढ़ आई थी तो उस वक्त भी मदद करने में सबसे आगे कई लोग खड़े हुए थे

बिहार के पप्पू यादव उनकी ऐसी कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर मौजूद हैं जिन्होंने बाढ़ में परेशान लोगों की मदद की है पानी में घुसकर लोगों को खाने पीने का सामान पप्पू यादव देकर आए थे और वैसे भी मदद करने में सबसे आगे ही रहे लेकिन जब चुनाव परिणाम सामने आए तो पप्पू यादव को हार का सामना करना पड़ा। और पप्पू यादव दूसरे नंबर पर नहीं है बल्कि चुनाव परिणाम में तीसरे नंबर पर रहे।