कमलनाथ सरकार को गिराने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने निभाई थी महत्वपूर्ण भूमिका , बीजेपी नेता ने किया खुलासा

कमलनाथ सरकार उस वक्त गिराई गई थी जिस वक्त देश में कोरोना वायरस संक्रमण तेजी से फैलना शुरू हुआ था। लेकिन स्पष्ट तो यही हो गया था कि कोरोनावायरस संक्रमण तो पहले ही फैल चुका था और उसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात में नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम किया जिसमें लाखों की भीड़ में भाषण दिए गए उस वक्त भारतीय मीडिया ने भी इसी कार्यक्रम को लेकर भरपूर कवरेज की और देश की जनता को यह भी बताया कि इस कार्यक्रम से बहुत बड़ा देश को फायदा होने वाला है।

लेकिन जब कमलनाथ सरकार को गिराया गया था तो लॉकडाउन भी इसके कुछ दिन बाद देश में लगाया गया था और इसी कमलनाथ सरकार को गिराने के चक्कर में लॉकडाउन तक को आगे की ओर बढ़ाया गया हालांकि यह तो स्पष्ट हो गया था कि कोरोनावायरस पहले से ही फैलना शुरु हो गया था लेकिन और इस सरकार को गिराने के चक्कर में लॉकडाउन को आगे बढ़ाया गया क्योंकि जिस वक्त लॉकडाउन को लगाया गया था उस वक्त देश में कोरोना वायरस संक्रमण फैल चुका था

और जैसे ही इस सरकार का पलटवार हुआ कमलनाथ सरकार को गिराया गया और इसमें यह भी बताया गया है कि की सरकार को गिराने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अहम भूमिका थी और इसका खुलासा किसी और ने नहीं भारतीय जनता पार्टी के एक नेता ने किया है। लेकिन जब कमलनाथ सरकार को गिराया गया और उसके बाद कुछ दिनों के बाद एक नई सरकार बनाई वो तस्वीरें आज भी सोशल मीडिया पर मौजूद हैं जब लोग अपने घरों में कैद थे

तब भारतीय जनता पार्टी के नेता शपथ ग्रहण कर रहे थे और देश की जनता से अपील की जा रही थी यहां घरों से ना निकले मास्क जरूर पहनें क्योंकि जब भी आप लोगों के संपर्क में आएंगे यदि उनमें से कोई भी व्यक्ति कोरोनावायरस संक्रमित हुआ तो आप भी संक्रमित हो सकते हैं यह सरकार ने निर्देशों में बताया था। लेकिन आज आप देख सकते हैं कि सरकार ने जो निर्देश दिए थे उन निर्देशों का भारतीय जनता पार्टी के नेता ही उस निर्देशों को तोड़ते हुए नजर आ रहे हैं।

आपने देखा होगा कि बड़ी-बड़ी महफिले सजती हैं उसमें बड़े-बड़े नेता भाषण देने के लिए जाते हैं लेकिन मास्क पहनना सही नहीं समझते। लेकिन यह तो देखा गया है कि अगर कोई गरीब आदमी सड़क पर निकलता होता है और अगर उसके मुंह पर मास्क नहीं होता है तो पुलिस उसका चालान काट देती है। लेकिन आपने वही यह भी देखा होगा कि बड़े-बड़े नेता पूरे भाषण को संबोधित कर देते हैं पूरी भीड़ से गुजर जाते हैं लेकिन अपने मुंह पर मास्क तक नहीं लगाते है । लेकिन बात यह भी है कि जितना खतरा एक आम इंसान को है उतना ही खतरा एक नेता को भी होता है

कमलनाथ सरकार को गिराने में पीएम मोदी की अहम भूमिका थी -कैलाश विजयवर्गीय

एनडीटीवी की इस खबर के मुताबिक भारतीय जनता पार्टी के एक नेता कैलाश विजयवर्गीय ने एक भाषण देते हुए यह खुलासा किया कि जब कमलनाथ सरकार को गिराया गया था तो उस वक्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बहुत मुख्य भूमिका थी। लेकिन यह बात भी देखिए जिस मंच से कैलाश विजयवर्गीय यह खुलासा कर रहे थे उस मंच पर केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा भी मंच पर मौजूद थे। अब उस वीडियो को भी देख लीजिए जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।