बड़ी खबर : जब बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने रिया चक्रवर्ती को लेकर बयान दिया था उसी वक्त लोगों ने कर दी थी यह भविष्यवाणी

बिहार के चर्चित डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने रिटायरमेंट ले लिया है पर अब वह बिहार विधानसभा का चुनाव में उम्मीदवार हो सकते हैं। लेकिन यह अनुमान लोगों ने तभी लगा लिया था। बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने रिया चक्रवर्ती के लिए बयान दिया था। और इस बयान में किस तरीके की भाषा का इस्तेमाल किया गया था सोशल मीडिया पर इनका वह वीडियो भी वायरल है । लेकिन उस वीडियो के बाद चुनाव में आने की चर्चा तो शुरू हो गई थी।

उसके बाद बिहार के डीजीपी अपने सोशल मीडिया अकाउंट टि्वटर पर 23 अगस्त यानी 1 महीने पहले एक ट्वीट करते हैं और उस ट्वीट में बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे बताते हैं कि बिहार का जो एक न्यूज़ पोर्टल है उसने मेरे इस्तीफा देने की एक गलत खबर चलाई है। ऊपर आप ट्वीट में देखिए गुप्तेश्वर पांडे सबसे अंत में लिखते हैं कि आप इस पत्रकारिता को किस स्तर की पत्रकारिता कहेंगे। लेकिन ये ट्वीट आज से ठीक 1 महीने पहले का है।

लेकिन अब कोई स्पष्ट हो गया है कि बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने रिटायरमेंट ले लिया है और आप भी बिहार विधानसभा चुनाव के उम्मीदवार हो सकते हैं। वैसे तो बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे का कार्यकाल 28 फरवरी 2021 तक का था। लेकिन बिहार चुनाव को देखते हुए उन्होंने समय से पहले ही रिटायरमेंट ले लिया। अभी यह स्पष्ट नहीं है लेकिन सूत्रों के हवाले से यह पता लग रहा है कि बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे एनडीए के उम्मीदवार हो सकते हैं।

लेकिन आपने देखा ही होगा कि बिहार चुनाव भी नजदीक है धीरे-धीरे चुनाव आ रहे हैं वहीं सुशांत सिंह राजपूत को लेकर मीडिया ने नए खुलासे कर रहा है अब और उस वक्त भी बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने भी रिया चक्रवर्ती को लेकर बयान दिया था। वह बयान ठीक उसी तरीके का था जिस तरीके के नेता बयान देते हैं। लेकिन इसके बाद रिया चक्रवर्ती को लेकर मीडिया ने भी ठीक इसी तरह की की भाषा इस्तेमाल की थी।

लेकिन अब भी मीडिया पर सुशांत पर ही कवरेज लगातार हो रही है । किसान अपने हक को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। लेकिन उन किसानों की आवाज मीडिया तक नहीं पहुंच पा रही है। लेकिन मीडिया पर अब चुनाव की कवरेज होने लगी है और नेता तो पहले से ही चुनाव की तैयारी करने में लगे हुए थे कोरोनावायरस काल में भी रैलियां भी हुई। मजदूर पैदल चल कर सड़क पर अपने घर को पहुंचे उन पर कोई कवरेज नहीं हुई।

लेकिन मीडिया पर कोरोनावायरस को लेकर अब तो कवरेज बिल्कुल समाप्त हो चुकी है 56 लाख से ज्यादा कोरोनावायरस केस भारत में आ गए हैं। और दुनिया में सबसे ज्यादा कोरोनावायरस के केस प्रतिदिन भारत में आ रहे हैं भारत ब्राजील को पीछे करके दूसरे नंबर पर पहुंच गया है लेकिन ऐसी आपदा में भी लोग अवसर को अवसर बदल रहे हैं और इसके कई उदाहरण आपके सामने गुजर चुके हैं।

आज सोशल मीडिया पर बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे का वह वीडियो वायरल हो रहा है इस वीडियो में उन्होंने रिया चक्रवर्ती को लेकर बयान दिया था। और इसी वीडियो को देखकर कई वरिष्ठ पत्रकारों ने यह घोषणा कर दी थी कि बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे चुनाव के उम्मीदवार हो सकते हैं। 1 महीने पहले जिस वेबपोर्टल ने रिटायरमेंट को लेकर आर्टिकल छापा वह भी सच हो गया।