अंजना जी आप तो बहुत पुरानी प्रवक्ता है , आज तक चैनल पर लाइव डिबेट चल रही थी और फिर……

इस समय टीवी पर भी खूब जोरदार बहस चल रही है । वही किसानों को लेकर भी लगातार मीडिया पर डिबेट हो रही हैं। और इस डिबेट में लोगों को शामिल भी किया जाता है। और जितने न्यूज़ चैनल है उन सभी टीवी चैनलों पर किसान आंदोलन को लेकर डिबेट चल रहे हैं लोगों में जोरदार बहस भी हो रही है इसमें सत्ता पक्ष और विपक्ष के लोग भी बैठकर डिबेट का हिस्सा बन रहे है । और बैठकर टीवी पर जोरदार बहस में चल रही है। दरअसल जिस प्रकार से

हर रोज टीवी चैनल पर डिबेट होती है। वैसे ही हर रोज की तरह ही इस टीवी पर डिबेट हो रही थी किसान आंदोलन को लेकर आज तक चैनल पर डिबेट चल रही थी जिसके एंकर अंजना ओम कश्यप थी ऊपर की ओर अगर हेड लाइन में देखा जाए तो साफ-साफ लिखा हुआ था कि आंदोलन की खेत स्वार्थ की फसल नीचे लिखा हुआ था कि किसान आंदोलन के समर्थन में और आगे कुछ नेताओं के नाम भी ग्राफिक्स के जरिए आ रहे थे।

लेकिन वही सत्ता पक्ष के प्रवक्ता और एंकर कृषि बिल को समझाने की कोशिश करते हैं। जैसे वो लगातार पिछले कई दिनों से कह रहे हैं जब से किसान आंदोलन शुरू हुआ है। कि आप सरकार पर भरोसा कीजिए किसानों के लिए यह बिल आया है और यह किसानों के लिए बहुत फायदेमंद है इससे यह फायदा होगा इससे वह फायदा होगा ऐसे बयान डिविटो में देखे गए हैं और इन पर चर्चा भी हुई है।

लेकिन आज तक के हल्ला बोल कार्यक्रम में जब एंकर अंजना ओम कश्यप डिबेट के दौरान थी तब आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता अंजना ओम कश्यप से कहते हैं कि अंजना जी आप तो बहुत बड़ी पुरानी प्रवक्ता है बाद में वह आगे कहते हैं सॉरी पत्रकार हैं। बस क्या था उसके बाद इस वीडियो का यही सा वायरल होने लगा क्योंकि जो टीवी पर पत्रकार बैठे हुए हैं वो खुद प्रवक्ता बने हुए हैं। और वह खुद प्रवक्ताओं से ज्यादा सत्ता की वाहवाही करते हैं।