रोहित सरदाना ने अपने कार्यक्रम दंगल में चलाई झूठी खबर , कि AMU में जिन्ना की तस्वीर , बिहार कांग्रेस के उम्मीदवार ने लगाई

AMU

बिहार में विधानसभा चुनाव की तैयारी जोरों शोरों पर है नेता और कार्यकर्ता अपने चुनाव प्रचार में जुट गए हैं वहीं कुछ गोदी मीडिया के चैनल भी एक्टिवेट हो गए हैं। आज तक चैनल के एंकर रोहित सरदाना अपने कार्यक्रम दंगल में यह दावा करते हैं कि बिहार चुनाव में कांग्रेस के जो उम्मीदवार हैं मशहूर उस्मानी उन्होंने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में जिन्ना की फोटो लगाई। कार्यक्रम शुरू होते ही एंकर यह कहने लगता है कि बिहार में काबा जिन्ना का जिन्न बा

AMU

यह कार्यक्रम 1 दिन पहले का है। इस कार्यक्रम में यह दावा किया गया कि कांग्रेस ने दरभंगा जिले के जाले से जिस उम्मीदवार को टिकट दिया है उसने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में जिन्ना की तस्वीर को लगाया है और फिर क्या था उस डिबेट में भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा भी मौजूद थे। और फिर भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा को उस गलत खबर पर अपनी देशभक्ति दिखाने का मौका मिल गया। और उसके बाद फिर उन्होंने अपने मोटिवेशनल बयान देना शुरू कर दिए।

लेकिन इसमें सहयोग किसका मिला मुख्यधारा का मीडिया चैनल का जिसे आजकल गोदी मीडिया के नाम से जाना जाता है । और आज तक की एंकर ने आज कोई नई गलत खबर नहीं दिखाइए बल्कि पहले भी कासगंज में जब मामला हुआ था तब भी इस एंकर ने गलत खबर दिखाई थी। और इसका खुलासा कई वरिष्ठ पत्रकार कर चुके हैं जिनकी वीडियो यूट्यूब पर उपलब्ध हैं। लेकिन आपको यह भी बता दें कि 1938 से ही अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में जिन्ना की तस्वीर टंगी हुई है।

और आपको यह भी बता दें कि साल 2018 में इस तस्वीर को उतारने के लिए हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता पुलिस के साथ-साथ अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में गए थे । और इसके बाद यह हुआ कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के कई छात्र घायल हुए। लेकिन रोहित सरदाना ने जो दावा किया। और जिसका खुलासा अल्ट न्यूज वेबसाइट ने किया और उस पर ट्वीट हम आपके साथ साझा कर रहे है