अंबानी की जिओ कंपनी ने अब लगाया यह आरोप , कि एयरटेल और वोडाफोन , जिओ कंपनी के ग्राहकों को भड़का रहे हैं

देशभर में किसानों का आंदोलन चल रहा है वही कुछ दिन पहले किसानों की एक तस्वीर सामने आई थी जहां किसानों ने अपने हाथ में जिओ का सिम लेकर प्रदर्शन किया था और उस जिओ सिम को बायकाट करने की अपील की थी। लेकिन जिस तरीके का बयान जिओ सिम कंपनी ने दिया है उसी तरीके का बयान भारतीय जनता पार्टी के कुछ नेताओं ने और भारतीय मीडिया ने भी किया था । कि किसान जो भारत की जमीन पर बैठकर जो आंदोलन कर रहे हैं इन किसानों को कोई बहका रहा है

और यही भारतीय जनता पार्टी के नेता कह रहे थे और यही भारतीय मीडिया में भी चल रहा था कि किसानों को विपक्ष की पार्टी में बहका रही है । किसानों ने  पलटवार करते हुए यह भी कहा था कि हम किसान हैं हम कैसे बहक सकते हैं हम तो इस देश में खेती भी करते हैं हमें अन्नदाता कहा जाता है हमारे बच्चे आज पढ़े लिखे हुए हैं तो क्या हम किसी के बहकावे में आकर कैसे बहक सकते हैं। अब ठीक उसी तरीके का बयान जिओ कंपनी की ओर से आया है।

जिओ कंपनी ने अपने बयान में कहा है कि भारती एयरटेल और वोडाफोन उन किसानों का जो आंदोलन हो रहा है इसके समर्थन मे आड़ लेकर जिओ के ग्राहकों को बहला-फुसलाकर अपनी कंपनी में नंबर पोर्ट करने का काम कर रहे हैं। क्योंकि यह तो साफ है कि कोई भी कस्टमर 3 महीने के बाद किसी भी कंपनी में नंबर पोर्ट करा सकता है। और वह एक कंपनी को छोड़कर दूसरी कंपनी में जा सकता है।

लेकिन यह भी देखा गया है कि किसान जो आंदोलन कर रहे हैं तो किसानों ने जिओ कंपनी के तमाम उत्पादों को बायकाट करने का फैसला भी कर लिया है जिओ के जितने भी प्रोडक्ट हैं अब किसान उनका भी बहिष्कार करेंगे। हालांकि कुछ दिन पहले जिओ सिम का बहिष्कार किसान आंदोलन में देखने को मिला था जहां किसान जिओ सिम का बहिष्कार करते हुए नजर आ रहे थे। लेकिन किसानों के इस बहिष्कार को लेकर जिओ ने भी बीजेपी नेताओं की तरह बयान दे दिया कि किसानों को बहकाया जा रहा है