प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम मन की बात को यूट्यूब पर लोगों ने किया जबरदस्त डिसलाइक , भारतीय नस्ल के….. विस्तार से पढ़ें

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर लोगों से अपने मन की बात सुनाई। भारत में हर रोज कोरोनावायरस के केस दुनिया में सबसे ज्यादा बढ़ रहे हैं। आंकड़ों को अगर देखा जाए तो भारत में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या दुनिया में सबसे ज्यादा आ रही है। लेकिन इस बार भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहले ही की तरह अपने मन की तमाम बातें रेडियो के जरिए लोगों तक पहुंचाएं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में कहा कि 2022 में हमारा देश स्वतंत्रता के 75वां वर्ष का पर्व मनाएगा। लेकिन क्या आपने यह सोचा है कि वर्तमान के समय में इस देश में कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों की संख्या कितनी आ रही है। एक्सपर्टो ने तो यह भी दावा किया था कि फरवरी 2021 में भारत में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या प्रतिदिन 2.87 लाख तक पहुंच सकती है।

तो क्या हम वर्तमान के समय को छोड़कर अगले 2 साल के बारे में अभी से ही सोचने लगे। शायद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस कार्यक्रम के जरिए लोगों की परेशानी की भी मन की बात हो जाती। लॉकडाउन के समय से करोड़ों लोग बेरोजगार हो गए हैं करोड़ों लोगों की नौकरियां चली गई है। उन लोगों ने भी आस लगाई होगी कि हो सकता है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उन लोगों के बारे में भी कुछ कहें जिन लोगों की लॉकडाउन के समय में नौकरियां चली गई।

और भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई बयान दिए देसी नस्ल के डॉग के बारे में भी बताया। और जब सोशल मीडिया पर मन की बात कार्यक्रम को प्रसारित किया गया था तब यूट्यूब के प्लेटफार्म पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस कार्यक्रम मन की बात को लोगों ने लाइक से कहीं ज्यादा डिसलाइक किया। आप भी देखिए यह ट्वीट किया हुआ स्क्रीनशॉट।