यूपी: पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने यूपी में कोरोनावायरस को लेकर मौजूदा सरकार से किए सवाल , तो हो गई थी FIR

भारत में कोरोनावायरस मामले बढ़ कर 23 लाख से पार निकल गए हैं। उत्तर प्रदेश में कोरोनावायरस लगातार बढ़ रहा है पिछले 24 घंटे में 5000 से ज्यादा मामले आए हैं उत्तर प्रदेश में एक्टिव केसों की संख्या लगभग 50 हजार के करीब है। जो उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोनावायरस संकमण मरीजों की संख्या आई है वह अब तक की सबसे बड़ी संख्या है 5000 कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों की संख्या से पहले नहीं आई थी ।

और इसी के चलते हुए रिटायर्ड आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने बढ़ते कोरोनावायरस को लेकर मौजूदा सरकार पर सवाल खड़े किए थे यूपी में कोरोना टेस्टिंग को लेकर सवाल किए थे कि कोरोनावायरस बढ़ता चला जा रहा है और सरकार इनको रोकने में बेकाबू होती दिख रही है। लेकिन हुआ क्या इन्होंने तो सरकार से सवाल किया । क्योंकि कोरोनावायरस संक्रमण से हर राज्य की स्थिति बिगड़ती हुई नजर आ रही है। लेकिन सवाल पूछने के बदले में आइए सूर्य प्रताप सिंह पर ही मुकदमा दर्ज हो गया

आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने बढ़ते कोरोनावायरस संक्रमण को लेकर मौजूदा सरकार से सवाल किया था लेकिन इसके बदले में 11 जून को उनके खिलाफ भ्रामक जानकारी फैलाने के आरोप में मुकदमा दर्ज हो गया था। सूर्य प्रताप सिंह को सोमवार को नोटिस भेजा गया था। लेकिन जब उन्हें यह पता चला। कि उनके खिलाफ पुलिस ने चार्जशीट भी लगा दी है । तो सूर्य प्रताप सिंह अपनी गिरफ्तारी देने हजरतगंज कोतवाली पहुंच गए।

कोतवाली पहुंच कर आइए सूर्य प्रताप सिंह ने कहा “कि मुझ पर चार्जशीट लगा दी गई है और मैं अपने गिरफ्तारी देने आया हूं आप मुझे गिरफ्तार कर लीजिए” आईएएस सूर्य प्रताप सिंह अपने ट्विटर अकाउंट पर आए दिन सरकार से सवाल करते रहते हैं उत्तर प्रदेश में जो मामले पिछले दिनों सामने उभर कर आए हैं उन पर भी सवाल उठाये है । उत्तर प्रदेश में जब कानपुर में विकास दुबे का मामला सामने आया था तब भी सूर्य प्रताप सिंह ने सवाल उठाए थे।

आईएएस सूर्य प्रताप सिंह उत्तर प्रदेश में महिला सुरक्षा पर मौजूदा सरकार पर सवाल उठाते रहते हैं जब चीन और भारत में तनाव बढ़ा था तब भी उन्होंने केंद्र सरकार पर सवाल उठाए थे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि हमारी सीमा में कोई घुसा नहीं है और ना ही कोई घुसा हुआ है। और बाद में रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट पर एक दस्तावेज अपलोड होता है जिसमें इस बात का जिक्र होता है कि चीनी सैनिकों ने भारतीय सीमाओं पर घुसपैठ की थी।

लेकिन बाद में उस दस्तावेज को हटा दिया जाता है इस पर भी सूर्य प्रताप सिंह ने अपने सवालों को उठाते हुए कई ट्वीट किए थे। उत्तर प्रदेश में पिछले दिनों कई मामले सामने आए थे संजीत यादव का मामला भी सामने आया था उस पर भी आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने ट्वीट के जरिए से सवाल उठाए थे। लेकिन इसके बदले में उन पर मुकदमा दर्ज हो गया। उन्होंने अपने ट्वीट के माध्यम से कहा क्या सरकार से सवाल करना अब गुनाह हो गया है।

उत्तर प्रदेश में कोरोनावायरस संक्रमण के लगातार मामले बढ़ते ही जा रहे हैं पिछले 24 घंटे में 5000 से ज्यादा मामले आए हैं और पिछले 24 घंटे में पूरे भारत में कुल मरीजों की संख्या 61 हजार से ज्यादा आई है । और वही पूरे देश में पिछले 24 घंटे में कोरोनावायरस की वजह से 835 लोगों की मृत्यु हुई है। और अब उत्तर प्रदेश में भी कोरोनावायरस तेजी से बढ़ रहा है और इसी बढ़ते कोरोनावायरस को लेकर आइए सूर्य प्रताप सिंह ने मौजूदा सरकार पर सवाल किए थे। और इसके बाद उन पर मुकदमा दर्ज हो गया।

हजरतगंज के एसीपी अभय मिश्रा ने बताया कि सूर्य प्रताप सिंह पर जो एफआईआर की गई थी। और 4 सीट बनाकर न्यायालय के समक्ष पेश करने के बाद उन्हें यह नोटिस भेजा गया था।