राहत इंदौरी साहब अब इस दुनिया में नहीं रहे , हमेशा याद आएगी उनकी शायरी , डॉ राहत इंदौरी साहब कोरोनावायरस से संक्रमित थे

कोरोनावायरस संक्रमण इतना बढ़ गया है कि अब लगातार बड़े-बड़े लोग भी संक्रमण के शिकार हो रहे हैं हिंदुस्तान की मशहूर शायर राहत इंदौरी साहब जाने-माने शायर थे और उनकी शायरी आज भी लोगों की जुबान पर है। सुबह उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर कोरोनावायरस संक्रमित होने की जानकारी दी थी लेकिन अब खबर यह आई कि राहत इंदौरी साहब इस दुनिया को अलविदा कह गए।

सुबह 7:35 पर उनके एक टि्वटर अकाउंट से एक ट्वीट किया गया था कि कोविड-19 शुरुआती लक्षण दिखाई देने पर कल राहत इंदौरी साहब ने कोरोनावायरस कराया था जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है उन्हें ऑरबिंदो हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। और उसके बाद राहत इंदौरी साहब ने इस बीमारी को हराने के लिए लोगों से दुआओं की अपील की इसके बाद उन्होंने यह भी कहा कि एक और इल्तजा है

मुझे और घर के लोगों को फोन ना करें मेरी खैरियत फेसबुक और ट्विटर के माध्यम से मिलती रहेगी। आज हमारे बीच हिंदुस्तान के मशहूर हिंदी और उर्दू उर्दू शायर नहीं रहे। राहत इंदौरी साहब हिंदी और उर्दू शायरी की जान थे। इंदौर के ही एक स्थानीय पत्रकार शुरैह नियाज़ी ने बताया कि उनका इंतकाल दिल का दौरा पड़ने से हुआ क्योंकि वह कोरोनावायरस से संक्रमित थे और सांस लेने ने उन्हें तकलीफ हो रही थी और जिसके बाद उन्हें भर्ती कराया गया।

राहत इंदौरी साहब 70 साल के थे और 70 साल में भी वह दिलचस्प शायरी करते थे राहत इंदौरी साहब का जन्म 1 जनवरी 1950 को हुआ था। आज भी राहत इंदौरी साहब के कुछ शायरी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। उनका एक शायरी बहुत वायरल हुआ जिसका जिसमें उन्होंने कहा था किसी के बाप का हिंदुस्तान थोड़ी है। और भी कई शायरी सोशल मीडिया जैसे यूट्यूब पर वायरल हुई थी।

सोशल मीडिया पर कई लोग राहत इंदौरी साहब के इंतकाल पर ट्वीट कर रहे हैं मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी उनके बारे में ट्वीट किया लिखा राह के के पत्थर से बढ़कर कुछ नहीं है मंजिले रास्ते आवाज देते हैं सफर जारी रखो देखिए शिवराज सिंह चौहान का ट्वीट

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दूसरा ट्वीट किया अपनी शायरी से लाखों करोड़ों दिलों पर राज करने वाले मशहूर शायर राहत इंदौरी साहब देखिए उनका यह दूसरा ट्वीट।

इमरान प्रतापगढ़ी ने भी ट्वीट किया उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा जनाजे पर मेरे लिख देना यारों मोहब्बत करने वाला जा रहा है अलविदा राहत साहब देखिए इमरान प्रतापगढ़ी का यह ट्वीट।

उसके बाद कई सोशल मीडिया पर लोगों ने ट्वीट किया।

जाने-माने हिंदी कवि डॉक्टर कुमार विश्वास ने भी राहत इंदौरी साहब के लिए ट्वीट किया क्योंकि डॉ कुमार विश्वास ने भी राहत इंदौरी साहब के साथ में बहुत सी कविताएं पढ़ी हैं डॉ कुमार विश्वास अपने ट्वीट में लिखते हैं हे ईश्वर बेहद दुखद इतनी बेबाक जिंदगी और ऐसा तरंगित शब्द सागर इतनी खामोशी से विदा होगा शायरी देखिए डॉ कुमार विश्वास का यह ट्वीट।