बड़ी खबर : जो दस्तावेज रक्षा मंत्रालय ने वेबसाइट पर अपलोड किया था उसे अब रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट से हटा दिया गया

रक्षा मंत्रालय ने आज एक दस्तावेज अपनी वेबसाइट पर अपलोड किया जिसमें बताया गया कि मई महीने से चीनी सेना में लगातार भारत की सीमा पर घुसपैठ की है लेकिन इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे सिरे से नकार दिया गया था कि सीमा में कोई घुसपैठ नहीं हुई है इस दस्तावेज के अनुसार बताया गया था कि मई महीने से LAC पर लगातार अपना अतिक्रमण बढ़ाया था।

लेकिन इस दस्तावेज को लेकर राहुल गांधी ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल पूछा और उन्होंने कहा क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी क्यों झूठ बोल रहे थे लेकिन उससे बड़ी खबर यह है कि इस दस्तावेज को रक्षा मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर अपलोड किया था बाद में उसे वेबसाइट से हटा दिया गया ऐसी क्या स्थिति आ गई जो वेबसाइट से उस दस्तावेज को हटाना पड़ गया । आखिर रक्षा मंत्रालय ने ऐसा क्यों किया।

क्योंकि रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट जो दस्तावेज अपलोड किया गया था । उस दस्तावेज के अनुसार मई महीने से एलएसी पर चीनी सेना ने घुसपैठ की है लद्दाख में गोगरा में पैंगोंग त्सो लगातार घुसपैठ की गई। उसके बाद कई खबरें और मानचित्र सामने निकल कर आए जिससे साफ जाहिर हो रहा था कि चीनी सेना ने लगातार भारतीय सीमा पर घुसपैठ की है। और जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिरे से नकार दिया था उस बात को इस डॉक्यूमेंट के आधार पर प्रधानमंत्री का वो बयान गलत साबित हो रहा था।

क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी में अपने वयान में कहा था । कि भारतीय सीमा में कोई नहीं घुसा है लेकिन इस डॉक्यूमेंट के अनुसार यह जाहिर हो रहा था कि भारतीय सीमा में लगातार घुसपैठ हुई है चीनी सेना ने अतिक्रमण भी बढ़ाया है। तो अब सवाल ये है कि आखिर रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट से इस डॉक्यूमेंट को क्यों हटाया गया। क्योंकि इस डॉक्यूमेंट को लेकर राहुल गांधी ने भी कहा था कि आखिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झूठ क्यों बोल रहे थे।