कोरोनावायरस से संक्रमित शिवराज सिंह चौहान ने फिर उड़ाई नियमों की धज्जियां , इस बार अस्पताल में लोगों के साथ……पढ़े

कोरोनावायरस संक्रमण हर दिन 50 हजार के करीब लोगों में पाया जा रहा है लेकिन अब ऐसा लग रहा है कि कोरोनावायरस को लेकर डर बिल्कुल खत्म हो गया हो जनता में तो आत्मनिर्भर बनने के बाद खत्म हो गया था लेकिन नेताओं ने भी अब तक खत्म साफ होने लगा है वह नहीं समझ रहे हैं कि कोरोनावायरस भी एक बीमारी है। इस बीमारी को लेकर सावधानियां बरतनी है 2 मीटर की दूरी भी बनानी है। और इन नियमों को लेकर सरकार भी जागरूक कर चुकी है।

खास तौर से जो कोरोनावायरस संक्रमित मरीज है उससे तो वैसे भी बिना पीपीई किट के पास नहीं जाया जा सकता। कल भी शिवराज सिंह चौहान की फोटो वायरल हुई थी जिसमें अस्पताल में बैठकर वह राखी बंधबा रहे थे सबसे बड़ी बात कि किसी के पास पीपीई किट नहीं थी। सिर्फ डॉक्टरों को छोड़कर कोई पीपीई किट नहीं पहने हुआ था। बड़ी बात कल उनके साथ में एक छोटा बच्चा भी था और वह भी कोरोना वार्ड के अंदर था।

वैसे तो कोरोनावायरस किसी की अनुमति नहीं होती है लेकिन यह क्या हो रहा है कि कोरोना वार्ड लोग बिना पीपीई के अंदर जा रहे हैं। क्या यह लोग भूल गए हैं कि कोरोनावायरस एक ऐसी बीमारी है जो संपर्क में आने के बाद तुरंत हो जाती है और इसका इलाज भी कोई नहीं है । वैक्सीन भी अभी तक नहीं बनी है। लेकिन फिर भी लोग जानबूझकर इस बीमारी से लापरवाही बरत रहे हैं।

5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर का शिलान्यास सुना है वहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहुंच रहे हैं। और देश में राम मंदिर की खुशी पर घरों में लोग दिए भी जला रहे हैं। राम मंदिर के शिलान्यास में जिन लोगों को आमंत्रित किया है वह भी पहुंच रहे हैं और बाकी जितने भी लोग जहां है वहीं से दीपक जला रहे हैं। भारत में तो कोरोनावायरस संक्रमण लगातार बढ़ ही रहा है साथ ही में 50,000 से ज्यादा प्रतिदिन के सामने आ रहे हैं।

वहीं शिवराज सिंह चौहान कोरोनावायरस से संक्रमित हैं। लेकिन वह लोगों के साथ बैठकर अस्पताल में दीपक जलाकर दीपोत्सव मना रहे हैं। उनके साथ बैठने वाले लोग यह भूल गए कि शिवराज सिंह चौहान कोरोनावायरस से संक्रमित है सबसे बड़ी बात यह है कि जितने भी लोग यह दीपोत्सव मना रहे हैं इसमें कोई भी पीपीई किट पहने हुए नहीं है। यह शिवराज सिंह चौहान की सबसे बड़ी लापरवाही है।

वैसे तो जहां कोरोनावायरस संक्रमित मरीज का इलाज होता है वहां किसी को घुसने नहीं दिया जाता है चाहे वह व्यक्ति कोई भी हो। लेकिन यहां क्या हो रहा है अस्पताल में सभी लोग बैठे हुए हैं और शिवराज सिंह चौहान जो कोरोनावायरस संक्रमित है वो उनके बीच में बैठे हुए हैं। दीपोत्सव मना रहे हैं। शिवराज सिंह चौहान के पास कई लोग बैठे हुए हैं वो भी दीपोत्सव मना रहे हैं।

आप अस्पताल के परिसर में देखिए। डॉक्टर ने वह तो कोरोनावायरस संक्रमण से बचने के लिए पीपीई किट पहने हुए हैं । लेकिन बाकी लोग बिना पीपीई किट के शिवराज सिंह चौहान जोकि कोरोनावायरस संक्रमित मरीज है उनके पास बैठे हुए हैं और शिवराज सिंह चौहान के बीच में बैठे हुए। सोचने की बात है भारत में कोरोना वायरस संक्रमण कम नहीं हो रहा है बल्कि लगातार बढ़ रहा है। 50,000 से ज्यादा मामले प्रतिदिन आ रहे हैं सावधान रहिए