गृह मंत्री अमित शाह ने की थी बड़ी लापरवाही , तस्वीरों में देखिए कि गृह मंत्री अमित शाह ने रैलियों में और मीटिंग में मुंह पर नहीं लगाया था मास्क

कोरोनावायरस एक ऐसी बीमारी है जो किसी को भी हो सकती है । जो भी कोरोनावायरस संक्रमण को लेकर सावधानी नहीं बरती का वह कोरोनावायरस संक्रमण की चपेट में आ सकता है। भारत सरकार भी यही निर्देश देती है कि अगर कोरोनावायरस से बचना है तो मुंह पर सही तरीके से मास्क लगाइए हाथों को धोते रहिए और अनजान वस्तुएं छूने से बचिए । और किसी से बात करते हुए कम से कम 2 मीटर की दूरी बनाए रखें

डब्ल्यूएचओ की तरफ से एक बयान आया था जिन्होंने एन95 मास्क सुरक्षित नहीं बताया था। लेकिन अब कोरोनावायरस वीवीआइपी क्षेत्र में भी संक्रमण फैला चुका है। भारतीय जनता पार्टी में कई बड़े नेता कोरोनावायरस से संक्रमित हो चुके हैं और जिन्होंने अपने संक्रमित होने की जानकारी खुद अपने ट्विटर अकाउंट पर दी। लोगों ने कोरोनावायरस संक्रमण से ठीक होने की दुआएं मांगी।

गृह मंत्री अमित शाह जब बिहार में रैली करने गए थे तब उस वक्त की तस्वीरें सोशल मीडिया पर भी भारी हुई थी जब देश में कोरोनावायरस के केस बढ़ रहे थे तब लॉकडाउन को भी अनलॉक किया गया था। जिस वक्त अमित शाह बिहार में रैली कर रहे थे उस समय उनके साथ जो और लोग खड़े हुए थे उनके सबके मुंह पर मास्क लगा हुआ था लेकिन अमित शाह के मुंह पर मास्क नहीं लगा हुआ था बल्कि उनके गले में लटका हुआ था।

कोरोनावायरस संक्रमण ऐसा नहीं है कि किसी नेता को नहीं होगा कोरोना वायरस संक्रमण हर व्यक्ति को हो सकता है इसलिए कोरोनावायरस संक्रमण से सावधानी बरतने की सख्त जरूरत है। और जिस तरीके की लापरवाही अमित शाह की रैलियों में अमित शाह के कार्यक्रमों में दिखाई दी उस तरीके से लापरवाही अन्य नेताओं को नहीं बरतना चाहिए। महानायक अमिताभ बच्चन भी कोरोनावायरस से संक्रमित हो गए थे और वह ठीक होकर कर घर पहुंच गए हैं

रैलियों में आपने देखा ही होगा कि गृह मंत्री अमित शाह ने मीटिंग में और बिहार में जब रैली हुई थी उस समय भी सही तरीके से मुंह पर मास्क नहीं लगाया था बल्कि वह मास्क जो मुंह पर लगाना चाहिए था वही मास्क उनके गले में लटका रहा सभी लोगों से मिलते रहे आसपास भी खड़े रहे भाषण भी दिया लेकिन मास्क मुंह पर नहीं लगाया। आज के को लेकर सरकार भी लोगों को निर्देशित करती है कि मुंह पर मास्क लगाना अनिवार्य है।

और अब भारत में कोरोनावायरस बेकाबू होता देख रहा है ऐसा कोई दिन नहीं है जिस दिन 50,000 से ज्यादा केस सामने नहीं आ रहे हो। हर दिन 50,000 से ज्यादा कोरोनावायरस संक्रमित के मामले सामने आ रहे हैं। और अब हालात ऐसे बन चुके हैं कि कोरोनावायरस से सावधानी रखना बहुत जरूरी हो गया है क्योंकि भारत में अब कोरोनावायरस संक्रमण तेजी से फैल रहा है और अब सावधानी रखने की ज्यादा जरूरत है।

जिस तरीके से गृह मंत्री अमित शाह लापरवाही बरतते रहे हैं मीटिंग हो चाहे रैली हो वह अपने पास खड़े लोगों के पास से गुजरते रहे बाकी लोगों ने तो कोरोनावायरस को लेकर सावधानियां बरतें उन्होंने मुंह पर मास्क लगाया लेकिन गृहमंत्री अमित शाह कहीं पर भी मास्क लगाए हुए नहीं देख रहे हैं। इसीलिए कोरोनावायरस से सावधानी बरतिए। मास्क लगाएं और कम से कम 2 मीटर की दूरी रखें और सावधान रहें