कोरोनावायरस : आत्मनिर्भर बने रहिए , क्योंकि कोरोनावायरस संक्रमण पर सरकार और मीडिया दोनों चुप है

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण की कुल संख्या 17 लाख 50 हज़ार से भी पार जा चुकी है और प्रतिदिन जो मामले सामने आ रहे हैं उनकी संख्या 50 हजार से ज्यादा पहुंच चुकी है आज 17 लाख 50,000 से ज्यादा कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों की संख्या भारत में है और आज यह संख्या 18 लाख को भी पार कर जाएगी। संख्या लगातार बढ़ती ही चली जा रही हैं। और भारत में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों का ग्राफ भी ऊपर बढ़ रहा है।

लेकिन भारत की मुख्यधारा की मीडिया और सरकार को देखकर ऐसा लगता है कि भारत से कोरोनावायरस का संक्रमण खत्म हो गया है क्योंकि कोरोनावायरस मुद्दे पर ना तो सरकार चर्चा करने को तैयार है और मीडिया में इतनी हिम्मत नहीं कि वह कोरोनावायरस को लेकर सवाल करें। गोदी मीडिया के चैनलों पर मुख्य मुद्दों को छोड़कर लगातार कवरेज हो रही है लेकिन कोरोनावायरस जैसे बढ़ते संकट पर बिल्कुल खामोश है।

मामले प्रतिदिन लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं और सरकार और गोदी मीडिया दोनों ही चुप है दोनों इस विषय पर चर्चा करने को तैयार हैं। उत्तर प्रदेश में भी कोरोनावायरस संक्रमण तेजी से फैल रहा है अब वहां यह भी खबर आई थी कि मरीजों को बेड मिलने में असुविधा हो रही है उनका इलाज सही ढंग से नहीं हो पा रहा है। सोशल मीडिया पर लगातार मरीजों के वीडियो आ रहे हैं जिसमें वह कहते हुए नजर आ रहे हैं कि उनका इलाज सही ढंग से नहीं हो पा रहा है।

जब लॉकडाउन को लगाया गया था तब भारत में कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों की संख्या बहुत कम थी लेकिन जैसे ही लॉकडाउन को खोला गया कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी और बढ़कर इतनी पहुंच गई कि मामले अब 18 लाख पहुंचने वाले हैं और कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों की प्रतिदिन आने वाली संख्या भी पचास हजार के पार निकल गई। प्रतिदिन कोरोनावायरस के जो केस सामने आ रहे हैं उन पर काबू होता नहीं दिख रहा है।

इस समय कोरोनावायरस संक्रमण भारत में तेजी से फैल रहा है तो मीडिया में कोरोनावायरस संक्रमण को रोकने के लिए डिबेट होनी चाहिए । लेकिन डिबेट हो किस पर रही है वही पुराना मुद्दा हिंदू मुसलमान पर आज भी बहस हो रही है प्रवक्ता अपनी मनमर्जी मुताबिक बयान दे रहे हैं। और कोरोनावायरस संक्रमण के चलते हुए यह बहस अभी भी जारी है कोरोना वायरस संक्रमण कहां से कहां पहुंच गया इसकी न मीडिया को चिंता है ना सरकार को चिंता है।

भारत में कोरोनावायरस के मामले को सबसे पहले महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा आ रहे थे अब प्रतिदिन आने वाले आंध्र प्रदेश में केस महाराष्ट्र से आगे निकल गए। सबसे पहले महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण फैला था लेकिन अब अन्य राज्यों में भी कोरोनावायरस संक्रमण तेजी से फैल रहा है जिन राज्यों में कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों की संख्या बहुत कम आ रही थी अब उनकी संख्या भी तेजी से बढ़ रही है।

भारत के समय कोरोनावायरस संक्रमण के तीसरे स्थान पर है। लेकिन प्रतिदिन आने वाले के किसी दिन ब्राजील से आगे निकल जाते हैं लेकिन प्रतिदिन आने वाले केस की संख्या सबसे ज्यादा अमेरिका में आ रही है लेकिन यह तीनों देश दुनिया भर में कोरोना वायरस संक्रमण में सबसे आगे चल रहे हैं। लेकिन भारत में संक्रमण इतना फैल रहा है लेकिन फिर भी मीडिया और सरकार दोनों चुप हैं।