कोरोनावायरस : लगातार बढ़ते मामलों ने फिर तोड़ा रिकॉर्ड , नहीं ले रहा थमने का नाम , पिछले 24 घंटे में फिर आए बढ़कर

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण स्थिर होता नहीं दिख रहा है हर रोज नए नए मामले सामने आ रहे हैं। और सबसे बड़ी बात यह है कि भारतीय मीडिया में और सरकार में इसको लेकर बिल्कुल भी जिम्मेदारी खत्म हो गई है कोई इस पर चर्चा ही नहीं करता सब अभी किसी दूसरे कार्य में व्यस्त हैं दुनिया में इस वक्त संक्रमण फैला हुआ है और भारत जो है वह तीसरे नंबर पर है और भारत देश में संक्रमण की तेजी से फैल रहा है

पिछले 24 घंटे में करीब 55 हजार मामले सामने आए हैं इतने मामले पहले कभी नहीं आए। अगर यह मामले लगातार बढ़ते ही गए तो तो कोरोनावायरस को काबू करना मुश्किल हो जाएगा क्योंकि अगर कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के ग्राफ को अगर देखा जाए तो कोरोनावायरस कहीं पर भी काबू होता नहीं दिखा है और अब भी स्थिति लगातार ऊपर की ओर जा रही है जो बेहद चिंता वाली बात है।

भारत में कोरोनावायरस के मामले अब इतनी तेजी से बढ़ रहे हैं कि मात्र 2 दिन में अब एक लाख संख्या बढ़ रही है कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों के कुल संख्या 16 लाख 40 हजार के करीब पहुंच गई है और यह संख्या रुकने का नाम नहीं ले रही है। महाराष्ट्र के साथ-साथ अब आंध्र प्रदेश में भी महाराष्ट्र से ज्यादा कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों की संख्या आने लगी उत्तर प्रदेश में भी चार हजार के करीब 24 घंटे में मामले सामने आए हैं।

बिहार में भी कोरोनावायरस संक्रमण चल रहा है पिछले 24 घंटे में दो हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं वहीं दिल्ली में पहले कोरोना वायरस संक्रमण मरीजों की संख्या 4000 तक पहुंच गई थी लेकिन वहां अब सिर्फ एक हजार के लगभग मामले सामने आ रहे हैं अगर देखा जाए तो दिल्ली में कोरोनावायरस संक्रमण काबू होता दिखा लेकिन वह भी तब जब एक बार 24 घंटे में मात्र 600 के लगभग केस आए थे लेकिन अब यहां फिर बढ़ने लगे

अब दिल्ली में दोबारा एक हजार के लगभग के सामने आने लगे। सबसे बड़ी बात यह है कि रोजाना जो कोरोनावायरस संक्रमित में मरीज पाया जा रहे हैं। उनकी संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है वह संख्या काबू नहीं हो पा रही है सोचने वाली बात यह है कि अगर वह संख्या का पूर्ण नहीं हो पाई तो कोरोनावायरस संघ में मरीजों की संख्या कहां तक जा सकती है इसका कोई अंदाजा नहीं लगाया जा सकता।

मगर इतने पर भी कोरोनावायरस संक्रमण तेजी से फैल रहा है लेकिन जो मरीजों के सोशल मीडिया पर वीडियो आ रहे हैं स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की अव्यवस्था सामने आ रही है इस पर मीडिया और सरकार दोनों खामोश है गरीब का इलाज जैसे हो रहा है वैसे हो ही रहा है और अमीरों का इलाज किस तरीके से हो रहा है यह आप अच्छी तरीके से जानते हैं आत्मनिर्भरता इतनी है की ऑक्सीजन का सिलेंडर कंधों पर रखकर मरीज चल रहा है।

जिस तरीके से भारत में कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती ही चली जा रही है और इस पर काबू नहीं पाया जा रहा रहा है। अगर यह संख्या बढ़ती गई तो जो देश इस समय पहले और दूसरे नंबर पर हैं यानी अमेरिका और ब्राजील क्योंकि अमेरिका और ब्राजील में प्रतिदिन जो केस आ रहे हैं भारत में आने वाले प्रतिदिन मामलों में ज्यादा फर्क नहीं है। क्योंकि भारत में कोरोना वायरस के मामले प्रतिदिन लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं।