कोरोना संक्रमित मरीज ने वीडियो बनाकर कहा “दूसरे अस्पताल में ले चलो” यहां कोई ध्यान नहीं दे रहा , उसके बाद हो गई मरीज की मौ…..

कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है और प्रतिदिन आने वाली संख्या 50 हजार के करीब है यह संख्या स्थिर नहीं हो पा रही है बल्कि पिछले दिनों से लगातार बढ़ती चली जा रही है और यह संख्या बढ़ते-बढ़ते अब 50,000 पहुंच गई है। भारत में यदि कोरोनावायरस संक्रमण को रोकना होगा तो पहले प्रतिदिन आने वाली संक्रमित संख्याओं को रोकना होगा। और टेस्टिंग भी ज्यादा से ज्यादा करनी होगी यह तभी संभव है।

लेकिन भारत में टेस्टिंग भी कम हो रही है और अस्पतालों में जो स्वास्थ्य सुविधाएं हैं उनकी हकीकत भी सामने आ रही है मरीज खुद वीडियो बना रहे हैं और जिस अस्पताल में भर्ती हैं उसकी हकीकत सोशल मीडिया पर सामने आ रही है कि किस तरीके से उनका इलाज चल रहा है किस तरीके से स्वास्थ्य व्यवस्थाएं उनके साथ काम कर रही हैं। मरीज आत्मनिर्भर बनकर खुद कोरोनावायरस से झूझ रहे हैं

ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के झांसी से आया है जहां मरीज ने खुद अपने फोन से वीडियो बनाया वीडियो में वह सकता कहता हुआ नजर आ रहा है कि यहां इस अस्पताल में स्वास्थ्य व्यवस्थाएं ठीक नहीं है कोई डॉक्टर देखने वाला नहीं है कोई कर्मचारी पूछने वाला नहीं है न पीने को पानी है और उस वीडियो में व्यक्ति को सांस लेने में भी तकलीफ हो रही है लेकिन उसे कोई देखने वाला नहीं।

यह वीडियो झांसी के एक मेडिकल कॉलेज का है जिसमें कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों का इलाज चल रहा है और भी लोग कोरोनावायरस संक्रमित मरीज बराबर में बेड पर लेटे हुए हैं लेकिन जिस आदमी ने वीडियो बनाया है उसे वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि उस से सांस लेने में तकलीफ हो रही है। वीडियो में आप देख सकते हैं एक भी स्वास्थ्य कर्मी नजर नहीं आ रहा है पूरे वार्ड में सिर्फ मरीज ही दिखाई दे रहे हैं।

उत्तर प्रदेश में पहले भी अस्पतालों को लेकर खबरें आई थी कि उनकी हालत कितनी खराब है और उन पर कोई भी ध्यान देने वाला नहीं खराब व्यवस्थाओं को लेकर मीडिया भी इन सवालों को नहीं उठाता और दूसरी बात कोरोनावायरस को लेकर तो सवाल मीडिया उठाता ही नहीं। भारत कोरोनावायरस संक्रमण में तीसरे नंबर पर है लेकिन जिन 2 देशों में कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों की संख्या आ रही है उससे अब ज्यादा पीछे भारत नहीं है।

प्रतिदिन आने वाले आंकड़ों की बात की जाए तो उन दो देश जो पहले और दूसरे नंबर पर बने हुए हैं। इन तीनों देशों की प्रतिदिन आने वाले आंकड़ों की तुलना की जाए तो भारत में और बाकी इन दो देशों में ज्यादा फर्क नहीं है। ब्राजील में और भारत में लगभग प्रतिदिन बराबर या कम ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं लेकिन अमेरिका में 70 हजार के करीब प्रतिदिन मामले आ रहे हैं।

लेकिन इस समय भारत तीसरे नंबर पर हैं और कोरोनावायरस संक्रमण बढ़ते हुए मरीजों की जो वीडियो वायरल हो रही हैं जिस पर मरीजों की जो वीडियो वायरल हो रही हैं मरीज खराब स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर सवाल उठा रहे हैं। यह वीडियो इस व्यक्ति का इसकी मृत्यु के बाद सामने आया। अगर समय से इस मरीज का इलाज किया जाता तो शायद आज उसकी जान बच सकती थी। इंटरनेट ये वीडियो वायरल है । आप सर्च करके देख सकते है