यूपी : मथुरा के उपजिलाधिकारी गुं डों के डर से सुरक्षा की मांग कर रहे हैं , बंगले के बाहर कह कर गए थे कि “जल्द ही निपटा देंगे”

उत्तर प्रदेश की सिस्टम की क्या हालत हो गई है इसकी ढेरों में साले आपके सामने पिछले हफ्ते में आ गई होंगी। उत्तर प्रदेश में अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि वह जिला अधिकारी के दफ्तर के बाहर जाकर वहां तैनात गार्ड से यह कहते हैं कि जिला अधिकारी साहब यहीं रहते हैं उनसे कहना आपको जल्द ही निपटा देंगे। लेकिन फिर वही बात याद आ जाती है कि जब अपराधियों के गले में फूल माला स्वागत होगा तो उनके हौसले बुलंद तो होंगे ही।

पिछले हफ्ते उत्तर प्रदेश में ऐसी ढेरों में साले सामने आई हैं जहां अपराधियों को सत्ता का भरपूर संरक्षण मिल रहा था। लेकिन बाद में जब खुलासा होने वाला था तब उन्हें खत्म कर दिया गया। यूपी के सिस्टम की पोल खुल कर सामने आ रही है जहां एक जिला अधिकारी को उनके बंगले पर अपराधी यह बात कहकर जाते हैं। आप सोच सकते हैं जब अपराधियों के इतने हौसले बुलंद हैं और वह जिला अधिकारी से यह बात कह सकते हैं

तो वह आम नागरिक के साथ क्या होता होगा। लेकिन सबसे बड़ी बात तो यह है कि इतनी बड़ी यह यूपी में बात हो गई की जिला अधिकारी के आवास पर कोई यह कह कर चला जाए कि उसे जल्दी निपटा देंगे लेकिन फिर भी मीडिया ने इस मुद्दे को अपने कार्यक्रम में शामिल नहीं किया क्यों नहीं किया क्योंकि उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है और इसीलिए मुख्यधारा का मीडिया इस मामले पर बिल्कुल खामोश है

उसके बाद मथुरा के एसडीएम राजीव उपाध्याय ने अपनी सुरक्षा बढ़ाने की मांग की है क्योंकि जब इस तरीके से अपराधी उनके बंगले पर गार्ड से यह कहकर जाएंगे कि उन्हें जल्दी निपटा दिया जाएगा। बात यह है कि यूपी के मथुरा के एसडीएम जब इस तरीके से अपनी सुरक्षा की मांग कर रही है तब आम नागरिक की सुरक्षा कैसे होती होगी। और उत्तर प्रदेश के पुरुष और महिलाएं कैसे सुरक्षित रह पाती होंगी