वीडियो में देखिए कि गोदी मीडिया के एंकर ने भारत-चीन मुद्दे पर अपने आप पोल खोल दी , जरूर देखें वीडियो

भारत चीन सीमा पर तनाव पिछले कई महीनों से चल रहा था। और इसी तनाव को लेकर हमारे भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हो गए लेकिन भारत में कुछ ऐसे नेता हैं और गोदी मीडिया में भी ऐसे एंकर बैठे हुए हैं। जो बात सत्ताधारी नेता कह रहे हैं गोदी मीडिया उसी बात को बढ़ा चढ़ा कर जनता के सामने पेश कर रहा है और इसके लिए आपके सामने ढेरों मिसाइलें हैं।

भारत चीन सीमा पर तनाव के बाद गलवान घाटी में भारत चीन सैनिकों के बीच झड़प हुई थी और झड़प में हमारे 20 जवान शहीद हो गए थे। और इसी के बाद भारत में कुछ नेता यह खबर चलाने लगे कि कि चीनी सेना के कम से कम 100 जवान मारे गए हैं। नेताओं के द्वारा दिए गए बयान को बिना जांचे परखे गोदी मीडिया के एंकरों ने अपनी प्राइमटाइम खबरों में चलाना भी शुरू कर दिया। उस खबर की सच्चाई तक नहीं पहुंच पाए।

बल्कि हकीकत तो यह है कि किसी भी तरह जनता का उस मुद्दे से ध्यान भटकाना था। भारत और चीन सीमा तनाव पर वरिष्ठ पत्रकार कुछ विपक्ष के लोग लगातार सरकार से सवाल कर रहे थे लेकिन इन सवालों के जवाब देने वाला कोई नहीं था और सबसे बड़ी मुख्य बात की सवाल पूछने वाला चौथा स्तंभ चुप बैठा है। इस देश का मीडिया ही सत्ता की वाहवाही में लगा हुआ है और लगातार झूठी खबरों का प्रचार-प्रसार किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का वह बयान कैसे भूला जा सकता है जिसमें उन्होंने कहा था कि ना हमारी सीमा में कोई घुसा है और ना ही कोई घुसा हुआ है । लेकिन जैसे ही यह बयान मीडिया में आता है इसके बाद मीडिया भी इस बात की पुष्टि कर देता है कि सरहद पर कोई भी चीनी सैनिक की घुसपैठ नहीं हुई है और ना ही भारतीय सीमा में कोई घुसा है जबकि हकीकत यह है कि चीनी सेना ने फिंगर 4 तक कब्जा कर लिया था। और उसके बाद खबरें आई थी कि पैंगोंग त्सो पर चीन हेलीपैड का निर्माण कर रहा है।

सबसे बड़ी बात यह है कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह बयान दिया था कि भारतीय सीमा में कोई घुसा हुआ नहीं है तब इस बयान को चीनी सेना ने अपनी भाषा में कन्वर्ट करके चीनी मीडिया पर खूब चलाया गया। वीडियो भी काफी वायरल है जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बयान देते हुए नजर आ रहे हैं और साथ ही चीन की भाषा में कन्वर्ट होकर वीडियो के ऊपर लिखा आ रहा है। और वह वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लेह में जाकर वहां भारतीय सैनिकों को संबोधित किया और भारतीय सैनिकों का हौसला बढ़ाया यह प्रधानमंत्री का बहुत अच्छा कदम था। कि हम अपनी देश की सेना की वजह से ही सुरक्षित हैं। लेकिन हम पुलवामा को कैसे भूल सकते हैं। जिसके बारे में अभी तक कुछ पता नहीं चला। और फिर दिल्ली में चुनाव होने से पहले देवेंद्र सिंह को गिरफ्तार किया गया था और उसने क्या कहा था पता कि यह गेम है इस गेम को खराब मत होने दो।

चीनी सेना भारतीय सीमा में फिंगर 4 को पार करके वहां निर्माण कार्य शुरू कर दिया था। भारत चीन झड़प में जो हमारे 20 जवान शहीद हुए थे क्या उनका बदला भारत ने ले लिया। क्योंकि बदले वाली बात गोदी मीडिया पर चल रही है। क्योंकि गोदी मीडिया में बदले वाली बात लगातार चल रही है। प्रधानमंत्री मोदी नरेंद्र मोदी ने चीन से लिया बदला। की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने थरथर कांपने लगा चीन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डर से घबराया चीन इस तरीके की हेडलाइन आपको गोदी मीडिया में बहुत मिलीं होंगी

कभी-कभी गोदी मीडिया के एंकरों से सच निकल ही जाता है भले ही वह चाहे दूसरे देश पर बयान देता हो। ज़ी न्यूज़ का एक एंकर चीन पर रिपोर्टिंग कर रहा था और वह चीन की मीडिया और चीन की सरकार और चीन की जनता पर रिपोर्टिंग कर रहा था। लेकिन अगर आप इस वीडियो को ध्यान से सुनेंगे तो आपको भारत की गोदी मीडिया की स्थिति और मौजूदा सत्ता की स्थिति और जनता का ध्यान भटकाने की स्थिति आप को साफ नजर आएगी। देखिए इस वीडियो को ध्यान से और समझने की कोशिश कीजिए।