भारत सरकार ने टिक टॉक और यूसी ब्राउजर सहित 59 चाइनीज ऐप को कर दिया बैन , भारत सरकार ने इन एप्स को कर दिया बैन , पढ़े पूरी खबर

भारत चीन सीमा पर तनाव है और काफी दिनों से भारत में चाइनीज सामानों को लेकर विरोध प्रदर्शन चल रहा था लोग चाइनीज सामान का विरोध कर रहे थे चाइनीस सामान की बिक्री पर भी रोक लगा रहे थे। पहले भी लोगों ने चाइनीज ऐप्स का इस्तेमाल रोका मार्केट में एक ऐप भी आया था वह ऐप चाइनीज ऐप को खोज कर निकाल रहा था।

अब भारत सरकार ने चीन पर बड़ा फैसला लिया है टिक टॉक और यूसी ब्राउजर समेत 59 चाइनीज ऐप पर सरकार ने प्रतिबंध लगा दिया है। क्योंकि गलवान घाटी सीमा पर भारत और चीन में तनाव चल रहा है और पिछले 15 जून को 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे। जिसको लेकर देश की जनता में चाइनीज सामान और चाइनीज ऐप्स को लेकर काफी गुस्सा था।

टिक टॉक और यूसी ब्राउजर ऐसे ऐप है जो भारत में सबसे ज्यादा चलने वाले ऐप हैं। टिक टॉक शॉर्ट वीडियो ऐप है। कि भारत के युवा सबसे ज्यादा इस्तेमाल कर रहे है। न्यूज़ में भी एक टिकटोकर को टिक टॉक स्टार कहा जाता है। यूसी ब्राउजर भी भारत में काफी ज्यादा ब्राउजिंग करने वाला ऐप है लेकिन अब सरकार ने इन सभी एप्प पर बैन लगा दिया है।

सरकार ने टिक टॉक , शेयर इट , कवाई , यूसी ब्राउजर ,डीयू बैटरी सेवर , हेलो , लाईकी , यूकैम मेकअप ,एमआई कम्युनिटी ,वायरस क्लीनर , क्लब फैक्ट्री ,न्यूजडॉग ,ब्यूटी प्लस ,वीचैट , यूसी न्यूज़ , क्यू क्यू मेल ,वीवो ,जेंडर , क्यू क्यू म्यूजिक , क्यू क्यू न्यूजफीड ,बिगो लाइव ,सेल्फीसिटी , मेल मास्टर , बीबा वीडियो , डीयू रिकॉर्डर , कैशे क्लीन , हागो प्ले , वंडर कैमरा ,फोटो बंडर ,स्वीट सेल्फी , यू वीडियो , और तमाम चाइनीज ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया है