यूपी के बलरामपुर में हुई मानवता को शर्मशार करने वाली घटना पढ़े पूरी खबर

यूपी में मानवता को शर्मसार कर देने वाली तस्वीरें सामने आई हैं । उत्तर प्रदेश में एक युवक के शव को एंबुलेंस के जगह कचरा गाड़ी में डाल कर ले जाया जाता है। इस खबर को नई दुनिया वेब पोर्टल पर छापा गया है जिसमें यह मामला उत्तर प्रदेश के बलरामपुर का बताया गया है। युवक की उम्र करीब 45 साल थी। और युवक सादुल्लाह नगर के सहजौर गांव में रहता था।

बताया जा रहा है कि युवक अपने किसी कार्य से उतरौला तहसील मुख्यालय पर गया था और वही उसकी अचानक तबीयत बिगड़ जाती है । और भाई युवक वही लेट जाता है देखते ही देखते उस व्यक्ति की मौत हो जाती है। जब यह जानकारी पुलिस तक जाती है तब पुलिस व्यक्ति की कोरोनावायरस जांच के लिए टीम बुलाती है लेकिन टीम जांच करके वहां से चली जाती है।

लेकिन इसके बाद भी युवक का शव वहीं पड़ा रहता है। लोग सब को देखकर वहां इकट्ठे होने लगते हैं। लेकिन वहां उस व्यक्ति को लेने के लिए कोई एंबुलेंस नहीं आती है। लेकिन इसके बाद वहां पर तैनात पुलिसकर्मियों के सामने इस व्यक्ति के शव को एक कचरा गाड़ी में डालकर ले जाया जाता है। इसके बाद इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो जाता है।

इस घटना को लेकर प्रियंका गांधी भी अपने फेसबुक पेज पर कहतीं हैं कि जो मामला यूपी के बलराम पुर से आया है जिसमें एक व्यक्ति के शव को कचरे की गाड़ी में डालकर ले जाया जाता है। कि कोरोनावायरस संकट के दौर में इंसानों के लिए एंबुलेंस ना होना राज्य सरकार की व्यवस्थाओं की पोल खोलता है। लेकिन ये खबर गोदी मीडिया से बिलकुल गायब है