अमेरिका में बढ़ती बेरोजगारी के कारण , अमेरिका में रह रहे भारतीयों पर ये निर्णय ले सकते हैं ट्रंप

भारत में कोरोनावायरस संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। और कोरोनावायरस के चलते भारत में बेरोजगारी भी बढ़ रही है। लेकिन बेरोजगारी तो पहले से ही बढ़ रही थी। और जब कोरोनावायरस संकट से दुनिया जूझ रही है और इस संकट से भारत जूझ रहा है । इस वक्त ऐसी स्थिति आ गई है कि बेरोजगारी बहुत बढ़ रही है। भारत में कोरोनावायरस के चलते हुए कई बड़ी कंपनियां बंद हो गई है जिससे लाखों लोग बेरोजगार हो गए

अमेरिका में कोरोनावायरस के मामले सबसे ज्यादा है बहुत सरकार टेस्टिंग ज्यादा कर रही है जिससे कोरोनावायरस के मरीजों का पता लगाया जा सके लेकिन जब अमेरिका में कोरोनावायरस का संकट फैला हुआ है और वहां बेरोजगारी भी बढ़ गई है कोरोनावायरस से लाखों लोगों की अभी तक जाने जा चुकी है।

अमेरिका में बढ़ती बेरोजगारी को लेकर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एच 1 वीजा और अन्य रोजगार वीजा को हमेशा के लिए सस्पेंड करने पर विचार कर रहे हैं। इससे भारत को एक बड़ा झटका लग सकता है क्योंकि भारत में पहले से ही बेरोजगारी बढ़ रही थी। भारत में कोरोनावायरस से पहले युवाओं के पास रोजगार नहीं था और राजनेता उन्हें पकोड़े तलने की सलाह दे रहे थे।

अमेरिका में जो भारतीय एच 1 विजा लेकर अमेरिका में नौकरी कर रहे थे उनकी नौकरियां जा चुकी हैं। और उनके पास अब देश वापस लौटने के सिवाय कोई विकल्प नहीं है। और अमेरिका में रह रहे भारतीय अब अपने देश वापस भारत लौट रहे हैं। इतनी बेरोजगारी बढ़ गई है लेकिन हमारी सरकारी मीडिया ने बेरोजगारी का मुद्दा नहीं उठाया।

लेकिन कोरोना वायरस के चलते हुए भारत में बेरोजगारी बढ़ रही है और हमारे राजनेता डिजिटल रैली कर रहे है देश कोरोना संकट से गुजर रहा है और हमारे राजनेता चुनावी कैंपेन करने जुटे है सोचो अब जो  भारतीय अमेरिका में काम कर रहे है वो बापस लौट कर आएंगे तो बेरोजगारी कितनी बढ़ेगी