धन्य है ऐसी पत्रकारिता , इतिहास में लिखा जाएगा , गोदी मीडिया के पत्रकार बोले चीनी सैनिक ज्यादातर इकलौती संतान हैं , कई बार सोचेंगे लड़ने से पहले

हमारा मीडिया जो लोकतंत्र का एक हिस्सा होता है वह आज सरकार बचाने के चक्कर में ना जाने कौन-कौन से खबरें चला रहा है। सरकार बचाने के चक्कर में लोकतंत्र के हिस्से को भी यह दाग लगा रहे हैं। सबसे बड़ी सोचने वाली बात यह है यह जनता तक अपनी बनावटी खबरें पेश करते हैं और सरकार का बचाव करते हैं। लेकिन यह गोदी मीडिया व्हाट्सएप वाला ज्ञान टीवी पर फैला कर जनता को बेवकूफ बना रहा है

सोशल मीडिया पर जब ऐसी खबर देखी गई तो लोगों ने ऐसे ट्रॉल्स पत्रकारों की क्लास लगा दी लोग समझ गए यह मौजूदा सरकार की नाकामी छुपाने के लिए इस तरीके का प्रोपेगेंडा कर रहे हैं। क्या सरकार की कमी छुपाने के लिए गोदी मीडिया कोई भी खबर चला देगा और उसे जनता बर्दाश्त कर लेगी। और यह वही पत्रकार हैं जिन्हें 2000 के नोट में चिप दिखती है

गोदी मीडिया के दोनों एंकरों की खबरें एक ही है और दोनों एक ही खबर चला रहे हैं कि चीन में इकलौती संतान होती है और जिसे परिवार बहुत प्यार से पालता है। और यह लोग सेना में भर्ती जरूर हो जाते हैं लेकिन यह बहुत कमजोर पाए जाते हैं। जब यह पत्रकार कह रहा है कि चीनी सेना कमजोर है तब चीनी सेना भारत के 60 किलोमीटर अंदर कैसे घुस आई

कोरोना वायरस को लेकर सरकार की नाकामियां गोदी मीडिया ने आज तक छिपाई हैं । उसे देश की जनता अब समझने लगी है देश में लगातार कोरोनावायरस के मामले पढ़ रहे हैं और एलईडी स्क्रीन लगाकर गरीबों तक भाषण पहुंचाया जा रहा है। लेकिन हमारा मीडिया यह सवाल सरकार से कभी नहीं करता कि कोरोनावायरस के संकट से देश गुजर रहा है और यह रैलियां क्यों की जा रही है।

अब देखिए यह एंकर क्या खबर चलाता है इस एंकर की खबर भी पहले एंकर की तरह ही है क्योंकि गोदी मीडिया एक व्हाट्सएप खबर के जरिए चलती है। इन दोनों एंकरों ने चीन के सैनिकों के बारे में सब पता लगा लिया। इस एंकर की खबर पर वरिष्ठ पत्रकार अजीत अंजुम क्या कहते हैं आप भी देखिए।