उत्तर प्रदेश की क्वॉरेंटाइन सेंटर की बदहाली पर सच्चाई दिखाई , तो हो गई पत्रकार के खिलाफ एफआईआर, पढ़े खबर

उत्तर प्रदेश में क्वॉरेंटाइन सेंटर की व्यवस्था पर एक पत्रकार ने सच्चाई दिखाने की कोशिश की तो उसके प्रणाम में उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज हो जाती है। यानी पत्रकारों को सच्चाई दिखाना भी अब पाप हो गया है। यह पत्रकार उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिले का रहने वाला है। इस पत्रकार का नाम रविंद्र शुक्ला है और यह एक न्यूज़ पोर्टल चलाते हैं और इसी न्यूज़ पोर्टल पर इन्होंने उत्तर प्रदेश के क्वॉरेंटाइन सेंटर की बदहाली पर रिपोर्ट की थी

तो इस पत्रकार के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो जाती है क्योंकि इस पत्रकार ने सच्चाई दिखाने की कोशिश की और इसका इसे फल मिल गया। न्यूजलॉन्ड्री की खबर के मुताबिक इस पत्रकार को कई संगीन मामलों के तहत आरोप लगाए गए हैं। इस पत्रकार पर सरकारी काम में बाधा डालने , हरिजन एक्ट , आपदा प्रबंधन , जैसे तमाम आरोप इस पत्रकार पर लगाए गए हैं।

आपको बता दें इस पत्रकार ने सीतापुर जिले के महोली क्वॉरेंटाइन सेंटर की बदहाली पर रिपोर्ट की थी। जिसमें वहां के लोगों ने बताया कि क्वॉरेंटाइन सेंटर में कोई व्यवस्था नहीं है समय पर खाने को नहीं मिल रहा है और जो चावल हमें खाने को दिया जा रहा है उस पर फफूंद लगा हुआ है। और क्वॉरेंटाइन सेंटर में लोगों की समय पर जांच भी नहीं हो रही है

जब इस खबर को रविंद्र शुक्ला ने अपने पोर्टल पर दिखाया तो इनकी इस रिपोर्ट से वहां के प्रशासन को बुरा लग गया और इस पत्रकार के खिलाफ तुरंत कई आरोपों के साथ एफआईआर दर्ज करा दी। यह पत्रकार तो क्वॉरेंटाइन सेंटर की सच्चाई दिखा रहा था लेकिन इस पत्रकार पर सरकारी काम में बाधा डालने हरिजन एक्ट आपदा जैसे तमाम संगीन आरोपों के तहत एफआईआर दर्ज करा दी जाती है

जब इस खबर के बारे में पत्रकार रवींद्र शुक्ला से पूछताछ हुई तब रवींद्र शुक्ला ने बताया एक व्यक्ति ने महोली क्वॉरेंटाइन सेंटर की एसडीएम से शिकायत की थी। और रविंद्र शुक्ला खबरों के सिलसिले में वहां मौजूद थे। एक व्यक्ति ने एसडीएम से शिकायत की थी कि जो क्वॉरेंटाइन सेंटर में चावल मिल रहा है वह फफूंद लगा हुआ मिल रहा है। और क्वॉरेंटाइन सेंटर की व्यवस्था बिल्कुल खराब है।

इसके बाद यह पत्रकार इस शिकायत के तहत उस क्वॉरेंटाइन सेंटर पर जाता है और वहां रिपोर्टिंग करता है महोली क्वॉरेंटाइन सेंटर की बदहाली की वीडियो बनाकर अपने पोर्टल पर यह पत्रकार चलाता है और उसके बदले में इस पत्रकार को यह परिणाम मिलता हैं