23 मार्च तक विदेश से आने वाले यात्रियों की मात्र 19 फ़ीसदी स्क्रीनिंग , तो कैसे रूकता कोरोना , और सारा दोष रख दिया जमातियों पर ,

सरकार की नाकामी की एक बहुत बड़ी खबर आई है जिसमें आरटीआई ने खुलासा किया है कि विदेश से आने वाले यात्रियों की मात्र 19 फ़ीसदी स्क्रीनिंग की गई थी। स्क्रीनिंग में अगर किसी का तापमान ज्यादा है यह किसी को खांसी है तभी उसकी जांच की जा रही थी वरना सब अपने-अपने घरों में चुपचाप जा रहे थे। और कनिका कपूर भी विदेश से कोरोना लेकर आई और कनिका कपूर एयरपोर्ट से छिपकर बिना जांच कराए अपने घर आ गयी ।

30 जनवरी को भारत में कोरोना वायरस का पहला केस आया था लेकिन यह सरकार बिल्कुल चुप पड़ी थी और यह सरकार सरकार बनाने में व्यस्त थी । जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने टि्वटर हैंडल से एक ट्वीट करते हैं वह कहते हैं कि हमने तो जनवरी के मध्य से ही स्क्रीनिंग शुरू कर दी थी । लेकिन अब आरटीआई की रिपोर्ट में बताया गया है कि मात्र 19 फ़ीसदी एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग की गई थी।

आखिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हम कितनी कमियां बताएं जो इन्होंने अहमदाबाद में नमस्ते ट्रंप नाम का एक मजमा लगाया था। और जिसका दुख आज अहमदाबाद की जनता भुगत रही है। भारत देश में कोरोनावायरस की संख्या बढ़ी तो गोदी मीडिया ने सरकार की नाकामियां छुपाने के लिए सारा दोष दिल्ली में फंसे ज़मतियों पर रख दिया

और फिर मीडिया ने ज़मतियों के सहारे सारे मुस्लिम धर्म को टारगेट करना शुरू कर दिया। और सरकार की नाकामियां छुपाने के लिए पता नहीं मीडिया को कौन-कौन सी झूठी खबरें चलानी पड़ी। और तमाम तरीके के बेबुनियाद कार्यक्रम चलाए कि मोदी लड़ेंगे कोरोनावायरस से ,कि अब बजेगा दुनिया में मोदी का डंका , यह तमाम तरीके के बेबुनियाद कार्यक्रम चलाने लगे और सरकार की कमियां छुपाते रहे।

अब देखिए आरटीआई एक्टिविस्ट साकेत गोखले ने ट्वीट के जरिए बताया। यह ट्वीट के जरिए बता रहे हैं कि 26 जनवरी तक इटली के दायरे में 322 लोग कोरोनावायरस संक्रमण आ चुके थे।

लेकिन हमारे यहां 24 फरवरी को नमस्ते ट्रंप हो रहा था। 30 जनवरी को भारत में पहला मामला आने के बाद भी नरेंद्र मोदी सरकार ने हवाई यात्रा चालू रखी उसके बाद 25 मार्च को जब संपूर्ण देश में लॉक डाउन किया गया और 23 मार्च को हवाई यात्रा बंद की और विदेश से कोरोनावायरस ले लेकर लोग अपने घरों में जा चुके थे।

यानी भारत में कोरोनावायरस का पहला मामला आने के बाद 2 महीने बाद हवाई यात्रा बंद की गई उससे पहले भी कनिका कपूर बिना जांच के अपने घर पहुंच गई बाद में उनको लक्षण दिखे उन्होंने जांच कराई तब वो कोरोना पपॉजिटिव पाई गई। कोरोनावायरस को लेकर इस सरकार की हजारों कमियां हैं हम कहां तक लिखें कम पड़ जाएगा लेकिन इस मीडिया ने इस मौजूदा सरकार की सारी कमियों को छुपाया है। और आज कोरोना वायरस संक्रमण मरीजो की संख्या लाखों की ओर बढ़ रही है