शराब के ठेके पर भीड़ को लेकर, गोदी मीडिया की चुप्पी क्यों , क्या इन लोगों की भीड़ से कोरोना वायरस नहीं फैला होगा , पढ़ें यह रिपोर्ट

1 दिन पहले सरकार यह ऐलान करती है कि कल से शराब की बोतल खरीद सकते हैं। उसके बाद शराब के ठेकों पर लंबी-लंबी भीड़ जुड़ जाती है। और यह सर आप बॉक्स ऑफिस की तरह कमाई करती है उत्तर प्रदेश में इसका कारोबार 1 दिन में 300 करोड़ तक पहुंच जाता है और राज्यों में भी कारोबार तेजी पकड़ता है अगर गौर करें तो यूपी में इस कारोबार ने बहुत तरक्की की। 1 दिन में 300 करोड़ का आंकड़ा पार करना कोई मामूली बात नहीं है अभी तक कोई भी फिल्म पूरे देश में 1 दिन में तीन सौ करोड़ का व्यापार नहीं कर पाई है लेकिन केवल शराब ने और वह भी एक भारत के राज्य उत्तर प्रदेश में 300 करोड़ रुपए की शराब बिक गई।

शराब लेने वालों ने लंबी लंबी लाइन लगाई और भीड़ लगाए खड़े रहे कोई तो पूरी पूरी पेटी खरीद रहा था कि कहीं ऐसा ना हो कि लोग डाउन और ज्यादा बढ़ जाए और हमें यह मदिरा फिर मिले या न मिले । मीडिया पर भील के वीडियो वायरल हैं जो शराब के ठेके के बाहर लगाए हुए हैं सवाल यह है कि किन के भीड़ इकट्ठा होने से क्या कोरोनावायरस नहीं फैला होगा अगर इनके बीच एक भी कोरोनावायरस मरीज संपर्क में आया होगा तो तो उससे भी कोरोनावायरस फैला होगा

इस भीड़ को लेकर सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने लगे लोग कहने लगे कि रुझान आने लगे हैं लेकिन आपको बता दें कि इस भीड़ को लेकर गोदी मीडिया ने सरकार से कोई सवाल नहीं किया । कल की गोदी मीडिया बताएं लगी कि शराब से अर्थव्यवस्था बनेगी ट्विटर पर कई ऐसे ट्विटर ट्रेंड होने लगे कहने लगे कि लगता है गोदी मीडिया को इस भीड़ में मस्जिद दिखाई नहीं दी अगर कहीं मस्जिद दिखाई देती तो इस पर चर्चा की जाती। इस तरीके के मींस सोशल वीडियो हुआ वायरल हो रहे हैं ।

जो भीड़ शराब के ठेकों के बाहर लगी है अगर उसमें एक भी व्यक्ति कोरोनावायरस संक्रमित आया होगा तो ना जाने कितने लोग संक्रमित उससे हुए होंगे। लेकिन इस भीड़ पर कोई सवाल नहीं क्योंकि इनसे देश की अर्थव्यवस्था बनाई जा रही है एक आदमी भी इस भीड़ पर फूल डालते हुए नजर आ रहा है और वह कह रहा है कि आप ही इस देश की अर्थव्यवस्था हो। लेकिन ज़रा आप सोचिए कि जब समय अच्छा था तब आप देश की अर्थव्यवस्था ना बना पाए तो अब क्या अर्थव्यवस्था बनाओगे।

जिस दिन यह शराब बिकना शुरू हुई उसी दिन कोरोनावायरस संक्रमित बीमारी 24 घंटे में 4000 बड़े लेकिन किसी का कोई ध्यान नहीं सब अपने-अपने कामों में व्यस्त हैं कोई अपने चैनल पर कोई नहीं चला रहा है और कोई अपने न्यूज़ चैनल पर मस्जिद की झूठी खबर चलाने के लिए माफी मांग रहा है लेकिन मुद्दों पर बात कोई करने को तैयार नहीं है सरकार से सवाल कर नहीं सकते क्योंकि यह गोदी मीडिया के एंकरों का बस का नहीं है कि सरकार से आंख मिला सके उनसे सवाल पूछ सकें।

अब सवाल यह है कि क्या इस भीड़ से कोरोना वायरस संक्रमण फैला नहीं होगा तबलीगी जमात का जब मामला सामने आया था तो तब यह गोदी मीडिया चीख चीख कर यह खबरें चला रहा था कि तबलीगी जमात के लोग कोरोनावायरस फैला रहे हैं उसके बाद तबलीगी जमात के जरिए उन्होंने मुसलमानों को टारगेट करना शुरू कर दिया लेकिन आज जब यह भीड़ उमड़ी तब किसी गोदी मीडिया ने इस भीड़ को लेकर सरकार से सवाल किया। एक व्यक्ति भी इसमें कोरोनावायरस शंकर में आया होगा सुनना जाने उसने कितने लोगों को इसमें संक्रमित किया होगा।