मध्यप्रदेश में कूड़ेदान के खाने से अपनी भूख मिटाता हुआ नजर आया शख्स

कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों में मध्य प्रदेश चौथे नंबर पर है यहां अभी तक कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 1164 है और 15 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। लेकिन सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक शख्स कूड़ेदान से किसी का फेंका हुआ खाना निकाल कर खा रहा है जबकि इस राज्य में सरकार ने दावा किया था किस राज्य में 92 लाख टन अनाज है लेकिन फिर भी सोशल मीडिया पर यह शख्स कूड़ेदान से खराब खाना निकाल कर खाता हुआ नजर आ रहा है। सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर मध्य प्रदेश के खंडवा की बताई जा रही है यह बेहद ही चौंकाने वाली तस्वीर है। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें दूध गिरा हुआ था और कुत्ते दूध पी रहे थे और बराबर में एक व्यक्ति अपनी भूख मिटाने के लिए उस दूध को बर्तन में लौट रहा था

इस शख्स का नाम नटवर मंडलोई है और यह खंडवा का रहने वाला है यह भी बताया जा रहा है कि इस शख्स की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है और मानसिक स्थिति ठीक ना होने के कारण घर वालों ने इसे निकाल दिया है गली चौराहों घरों के सामने रात में सो जाता है और दिन में आसपास के घरों से पैसे या कुछ खाना मांग कर अपना पेट भर लेता है। लेकिन मध्य प्रदेश सरकार यह दावा कर रही है कि हमारे प्रदेश में 92 लाख टन अनाज है। इस राज्य में सरकार इतना दावा कर रही है तो यह तस्वीर सोशल मीडिया पर कैसे तैरने लगी क्या इस वीडियो को देखकर सरकार ऐसे गरीब बेसहारा लोग जी कूड़ेदान से खाना खा रहे हैं अपना पेट भर रहे हैं क्या उन पर कोई ठोस कदम उठाएगी।

जिस शख्स ने यह वीडियो रिकॉर्ड किया उसने उस शख्स से कई बार कहा कि आइए चलो मैं आपको खाना खिलाता हूं लेकिन उस शख्स ने वीडियो रिकॉर्ड करने वाले की मदद को ध्यान नहीं दिया क्योंकि उस वक्त उस शख्स का ध्यान सिर्फ कूड़ेदान के खाने पर था और वही कूड़ेदान का खाना खाता रहा क्योंकि आश्वासन से बड़ी है पेट की भूख एक तरफ आपके सामने खाना है और एक तरफ अश्वासन है तो आप किसकी तरफ जाएंगे खाने की तरफ से आश्वासन की तरफ।