बीजेपी विधायक ने कोरोना फंड में दिए थे 25 लाख रुपये ,लेकिन अब वह वापस मांग रहे है अपना पैसा ..

जिस बीजेपी विधायक ने कोरोना वायरस संकट से लड़ने के लिए अपनी विधायक निधि से 25 लाख रुपये दिए थे अब वह विधायक अपने पैसे वापस मांग रहे हैं। विधायक श्याम प्रकाश उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले के गोपामऊ से बीजेपी विधायक हैं। इन्होंने अपनी विधायक निधि से कोना फंड में 25 लाख दान किये थे । लेकिन ना जाने क्यों अब बीजेपी विधायक श्याम प्रकाश अपना पैसा वापस मांग रहे हैं। इन्होंने हरदोई जिला प्रशासन को खत लिख कर अपना पैसा वापस करने की मांग की है उन्होंने कहा कि मेरे द्वारा दिया गया पैसे का सही इस्तेमाल नहीं हो रहा है इसलिए जो पैसा मैंने दिया था वह मुझे वापस दे दे।

अभी तक हरदोई में कोरोनावायरस के सिर्फ दो ही मरीज है। विधायक श्याम प्रकाश ने आरोप लगाते हुए कहा है कि जो पैसा कोरोना फंड में दिया गया है उसका प्रशासन सही तरीके से इस्तेमाल नहीं कर रहा है। और ना ही प्रशासन उन पैसों का हिसाब दे रहा है। विधायक श्याम प्रकाश आगे कहते हैं कि हमने जो राशि कोरोनावायरस जैसी बीमारी से लड़ने के लिए दान की थी प्रशासन उस पैसे का सही तरीके से इस्तेमाल नहीं कर रहा है और तत्काल ही हमारे विधायक निधि खाते में पैसा वापस भेज दिया जाए। और फिर उस पैसे से जरूरतमंदों की मदद की जाए।

आपने देखा ही होगा सोशल मीडिया पर आगरा के क्वॉरेंटाइन सेंटर की वीडियो वायरल हुई जिसमें लोगों से जानवरों की तरह व्यवहार किया जा रहा है खाने के बिस्कुट फेक कर दिए जा रहे हैं पीने का पानी भी फेंककर दिया जा रहा है खाने पीने को लेकर जो लोग क्वॉरेंटाइन सेंटर में बंद है उन लोगों में अफरा-तफरी मच जाती है जिस वक्त खाने को कुछ आता है। क्वॉरेंटाइन सेंटर में भी लोगों को सोशल डिस्टेंस बरतने के लिए कहा जाता है । इस क्वॉरेंटाइन सेंटर में जब खाना दिया जाता है तो लोग एक दूसरे के ऊपर चढ़ जाते हैं। वायरल वीडियो से प्रशासन की हकीकत सामने आ गई थी

विधायक राम प्रकाश ने जो चिट्ठी प्रशासन को लिखी थी उसके बाद प्रशासन ने इस चिट्ठी पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि जो पैसा विधायक राम प्रकाश ने कोरोनावायरस फण्ड में दिया था उसका 60% धन स्वास्थ्य विभाग की टीम को दे दिया गया है ।