प्लाज्मा डोनेशन पर IAS ने कर दी जमातियों की तारीफ , बीजेपी ने भेज दिया कारण बताओ नोटिस,

अभी तबलीगी जमात के लोगों ने प्लाज्मा डोनेशन किया जिससे कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों को बचाने में काम आ सके लेकिन उनके इस योगदान को किसी ने अपने चैनल पर नहीं दिखाया बस इनके फोटो वीडियो सोशल मीडिया पर तैरते हुए दिखाई दिए और तैर कर पता नहीं किधर निकल गए की गोदी मीडिया की नजर उस पर पड़ी कि नहीं पड़ी। उनके इस कार्य को देखकर कर्नाटक के आईएएस अधिकारी मोहम्मद मोहसीन ने तारीफ कर दी। इन्होंने ट्वीट के जरिए जमातियों की तारीफ की थी।

इस ट्वीट के बाद कर्नाटक सरकार ने आईएएस मोहम्मद मोहसिन को नोटिस भेज दिया और कहा कि 5 दिन के अंदर जवाब दीजिए। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा था कि जमाती तबलीगी हीरो हैं और इन्होंने जब ब्लड डोनेट किया तब किसी गोदी मीडिया ने इनके इस महान कार्य को नहीं दिखाया इसके बाद इनके ट्वीट को भारतीय जनता पार्टी के आईटी सेल ने घुमा फिरा कर सोशल मीडिया पर वायरल कराया और इसके बाद कर्नाटक सरकार ने मोहम्मद मोहसिन के पास एक कारण बताओ नोटिस थमा दिया।

मोहम्मद मोहसिन वही हैं जिन्होंने एक बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हेलीकॉप्टर जांच करने की कोशिश की थी। मजाल है किसी की इस देश में जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कोई सवाल कर ले या कोई जांच करें लेकिन आईएएस मोहम्मद मोहसिन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हेलीकॉप्टर को जांच करने की कोशिश की तो उन्हें निलंबित होना पड़ा । फिर कुछ दिनों बाद दोबारा जॉइनिंग मिल गई। आईएएस मोहम्मद मोहसिन बिहार के रहने वाले हैं और पिछड़ी जाति कल्याण विभाग में सचिव के पद पर कार्य कर रहे हैं।

लेकिन अब सवाल ये है कि जमातीयों की इन्होंने तारीफ कर दी है तो इन्हें कारण बताओ नोटिस दिया गया है और इन्हें जवाब देना है कि बताइए भाई साहब आप की तारीफ क्यों कर रहे हैं।