ज़ी न्यूज़ और एबीपी न्यूज़ द्वारा चलाई गई कानपुर मदरसे के बच्चों की कोरोना पॉजिटिव खबरों पर ‘अब आया है कानपुर के मुख्यचिकित्सा अधिकारी का वयान सुनिए .

27 अप्रैल को जी न्यूज और एबीपी न्यूज़ एक खबर चलाता हैं कि उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के मदरसों से 60 छात्र कोरोनावायरस संक्रमित पाए गए हैं । इसमें एबीपी न्यूज़ ने 53 बच्चे कोरोनावायरस से बताऐ और जी न्यूज़ ने 60 बच्चे बताये । वहीं न्यूज़ 18 ने 57 बच्चे पॉजिटिव होने के खबर चला रहा है। अगर ध्यान से देखा जाए तो इन गोदी मीडिया चैनलों के आंकड़े ही गलत है अगर स्वास्थ्य विभाग इनके साथ जानकारी साझा करता है तो यह आंकड़े अलग कैसे हो सकते हैं। ज़ी न्यूज़ की खबर के अनुसार ‘ कि जो मदरसे में 60 बच्चे कोरोनावायरस संक्रमित पाए गए हैं यह पहले दिल्ली ही निजामुद्दीन में जमात में शामिल हुए थे और फिर इन्होंने यहां आकर मस्जिदों में और बच्चों को संक्रमित कर दिया यह खबर जी न्यूज चलाता है

वही एबीपी न्यूज़ ने कानपुर मदरसे को लेकर 53 बच्चों की खबर चलाई । और एबीपी न्यूज़ ने भी अपनी खबर में यही कहा कि यह बच्चे दिल्ली से आए थे और यह जमात में शामिल हुए थे इसके बाद न्यूज़ 18 ने मदरसे के 57 बच्चों के कोरोना वायरस पॉजिटिव होने की खबर चलाई थी

देखिये ज़ी न्यूज़ का ट्वीट

इसके बाद देखिए एबीपी न्यूज़ ने यह खबर चलाई जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है हम उसी सोशल मीडिया से एबीपी न्यूज़ के वीडियो का लिंक आपके साथ साझा कर रहे हैं

अब देखिए गोदी मीडिया के पत्रकार का ट्वीट एवं पत्रकार हैं जो सूट पहनकर चांद पर पहुंच गए थे नाम है दीपक चौरसिया। उन्होंने ट्वीट किया ” कानपुर में हॉटस्पॉट एरिया की संख्या बढ़कर 20 से पार हो गई है कोरोनावायरस शंकर के मामले में सबसे अधिक वह छात्र हैं जो पढ़ने के लिए मदरसे में आए थे कानपुर के 3 मदरसों में से 56 छात्रों की कोरोनावायरस पॉजिटिव की पुष्टि हो चुकी है इनकी उम्र 10 साल और 20 साल के बीच है देखिए इनका ट्वीट

लेकिन इसी बीच कानपुर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी अशोक शुक्ला का वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वह कह रहे हैं कि जो कोरोनावायरस पॉजिटिव केस आए हैं उनमें से मदरसे के छात्र नहीं हैं जो गोदी मीडिया इसको लेकर झूठी खबरें चला रहा है और सांप्रदायिक रंग दे रहा है । देखिए कानपुर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी का यह वीडियो