समुद्र पर का कब्जा जमा रहा है चीन , लक्ष्यदीप से 600 किलोमीटर दूर पर कर रहा है निर्माण ,हुआ खुलासा

गोदी मीडिया ने पाकिस्तान को लेकर न जाने कितनी डिबेट कर डाली होंगी लेकिन इन डिबेट में लौट फेर कर वही मुद्दे होते हैं जो मोदी मीडिया के पत्रकार पिछले 6 सालों से करते चले आ रहे हैं। कोरोनावायरस का इतना बड़ा खतरा पूरी दुनिया में मंडरा रहा है लेकिन फिर भी चीन ऐसी हरकतें करने से बाज नहीं आ रहा है । गोदी मीडिया ने जिस तरीके से पाकिस्तान को लेकर डिबेट की है उस तरीके से चीन को लेकर कभी डिबेट नहीं की।

लेकिन चीन इस बार समुद्र के रास्ते पर अपना कब्जा जमा रहा है चीन ने लक्ष्यदीप से 600 किलोमीटर दूर एक स्थान पर कृत्रिम दीप बना रहा है। कोरोनावायरस को लेकर सभी देश इसके बचाव में वैक्सीन ढूंढ रहे हैं लेकिन चीन इधर-उधर समुद्री रास्ते पर अपना कब्जा जमा रहा है। जब कृत्रिम द्वीप की तस्वीरें खुलासे के बाद सामने आई तब पता चला कि लक्ष्यद्वीप के 600 किलोमीटर दूर चीन कृत्रिम द्वीप बना रहा है। लेकिन गोदी मीडिया इस पर चर्चा नहीं करेगा। देखिये सेटेलाइट द्वारा ली गयी तस्बीरें ।

पहले भी चीन को लेकर कई खबरें सामने आई थी और चीन ऐसी हरकतें कई बार कर चुका है पूरी दुनिया कोरोनावायरस को लेकर एक जंग लड़ रही है और चीन सरहदों पर ऐसी हरकतें कर रहा है। पहले चीन ने जमीन पर कब्जा किया था लेकिन अब की जमीन को छोड़कर समुद्र पर कब्जा कर रहा है और उस पर कृत्रिम द्वीप बना रहा है। यह एक चिंता का विषय है

लेकिन खुलासा तब हुआ जब कृत्रिम दीप बनाने की तस्वीरें सेटेलाइट द्वारा खींची गई तब चीन के इस द्वीप के बारे में खुलासा हुआ। चीन ने अपने जहाजों से ईंट पत्थर कंक्रीट ढोकर द्वीप पर ले आए। और यह सारा मलबा दूरी पर गिराने लगे। लेकिन दुनिया कोरोनावायरस के संकट से जूझ रही है चीन ऐसी हरकतें कर रहा है। और इस मुद्दे पर गोदी मीडिया बिल्कुल चुप है। देखिये ये ट्वीट

चीन जो कृत्रिम दीप बना रहा है वह भारत की सीमा से 684 किलोमीटर दूर है और भारत के लिए चिंता की बात है क्योंकि कृत्रिम दीप द्वारा चीन समुद्र पर नजर रखेगा।