अब संबित पात्रा के खिलाफ छत्तीसगढ़ के रायपुर में FIR दर्ज , पंडित जवाहरलाल नेहरू और राजीव गांधी पर की थी विवादित टिप्पणी ,पढ़ें पूरी खबर

बीजेपी के जाने-माने प्रवक्ता और नेता संबित पात्रा के खिलाफ छत्तीसगढ़ के रायपुर में एफ आई आर दर्ज हो गई है यह एफआईआर कांग्रेस के पूर्ण चंद्र पाढ़ी ने दर्ज कराई है। संबित पात्रा ने 10 मई को अपने ट्विटर अकाउंट से विवादित टिप्पणी की थी देश में मौजूदा मोदी सरकार हैं लेकिन इसके बावजूद भी बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा कह रहे हैं

कि देश में अगर कांग्रेस की सरकार के दौर में कोरोना आया होता तो घोटाले के ये नाम होते और इन्होंने घोटालों के नाम भी नेताओं के नाम पर ढाल कर ग्राफिक से ट्वीट किया था। और पंडित जवाहरलाल नेहरू और राजीव गांधी बोफोर्स घोटाला कश्मीर मामला और सिख विरोधी दंगा को लेकर झूठा आरोप ट्वीट के जरिए लगा रहे थे। देखिए इनका यह ट्वीट

इन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि अगर देश में कांग्रेस की सरकार होती या अगर कोरोनावायरस कांग्रेस सरकार के वक्त में आता तो 5000 करोड़ का मास्क घोटाला होता और 7 हजार करोड़ का कोरोना टेस्ट किट घोटाला होता। और 20 हजार करोड़ रुपए का जवाहर सैनिटाइजर घोटाला होता और 26 हज़ार करोड़ रुपए का राजीव गांधी वायरस रिसर्च घोटाला होता। एफ आई आर के बाद संबित पात्रा बोले इन एनएफआईआर से कुछ नहीं होगा

यह इनकी कोई नई बात नहीं है जब भी कोई डिबेट होती है तब यह राहुल गांधी सोनिया गांधी पंडित जवाहरलाल नेहरू और तमाम तरीके के नेता जो गुजर चुके हैं उनको अपनी डिबेट में घसीटना इनकी आदत हो चुकी है। मौजूदा वक्त के देश के हालातों पर इन्हें सवालों पर जवाब देना पसंद नहीं है। किसी सवाल का जवाब पूछो तो राहुल गांधी सोनिया गांधी इंदिरा गांधी पंडित जवाहरलाल नेहरू राजीव गांधी सबको डिबेट में याद कर लेते हैं।

लेकिन इन्हीं विवादित टिप्पणियों की वजह से अब भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता और नेता संबित पात्रा पर छत्तीसगढ़ के रायपुर में एफ आई आर दर्ज हो चुकी है। संबित पात्रा ने अपने ट्विटर अकाउंट से पहले भी कई ऐसी पोस्टें की जो जांच के बाद पता लगा कि वह झूठी थी और उसका खंडन किसी और ने नहीं बल्कि पुलिस ने किया।